लखनऊ: यूपी के मुख्‍यमंत्री मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार के मामले में सख्त रूख अपनाए हुए दूसरे दिन भी एक आईपीएस अफसर को सस्‍पेंड किया है. सीएम योगी ने आज बुधवार को महोबा के पुलिस अधीक्षक मणि लाल पाटीदार को तत्काल प्रभाव से निलंबित किए जाने के निर्देश दिए हैं. बता दें कि एक दिन पहले सीएम योगी ने प्रयाग के एसएसपी को सस्‍पेंड किया था. Also Read - आम आदमी पार्टी के नेता और सांसद संजय सिंह रविवार को हजरतगंज थाने में होंगे पेश, जानिए क्या है मामला

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित को निलम्बित किया था. यह लगातार दूसरे दिन दूसरा मामला है, जब किसी पुलिस अधीक्षक को निलंबित किया गया है. Also Read - Viral Video में वर्दी के नशे में चूर दिखा यूपी पुलिस का सिपाही, दिव्यांग पर दिखाई हनक, फिर...

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने आज जारी एक बयान में बताया कि इनके (मणि लाल पाटीदार) द्वारा गिट्टी परिवहन में लगी गाड़ियों के चलाए जाने हेतु अवैध रूप से धन की मांग की गई थी, जिसे पूरा न किये जाने पर वाहन स्वामी का पुलिस के माध्यम से उत्पीड़न किया गया. Also Read - 17 साल के लड़के को महंगी लाइफ स्‍टाइल का लगा चस्‍का, दादाजी के खाते से निकाल ल‍िए 15 लाख रुपए

महोबा के नए पुलिस अधीक्षक के रूप में लखनऊ कमिश्नरेट में तैनात पुलिस उपायुक्त अरुण कुमार श्रीवास्तव को भेजा गया है. बयान में कहा गया कि मणिलाल पाटीदार अखिल भारतीय सेवा के साथ-साथ एक अनुशासित बल के सदस्य भी हैं. इनके इस कार्य से पुलिस की छवि के धूमिल होने के साथ-साथ जनपद में स्वच्छ प्रशासन पर भी आंच आई है, और सरकार की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न चिह्न लगा है. मणिलाल पाटीदार निलम्बन अवधि में पुलिस महानिदेशक, कार्यालय से सम्बद्ध रहेंगे.