लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटों के दौरान कोविड-19 से एक ही दिन में सर्वाधिक 77 मरीजों की मौत होने के साथ मंगलवार को मृतकों की संख्या 2,585 तक पहुंच गई. राज्य में इस अवधि में संक्रमण के 4,336 नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग द्वारा शाम को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोविड-19 संक्रमित 77 और लोगों की मौत हो गई. इनमें सबसे ज्यादा 14 मौतें कानपुर नगर में जबकि लखनऊ में 12 लोगों की मृत्यु हो गई है. Also Read - Alert: कोविड-19 रोगियों में किडनी खराब होने का जोखिम बढ़ा

रिपोर्ट के अनुसार, बलिया में छह लोगों की मृत्यु हुई है. इसके अलावा प्रयागराज में पांच, वाराणसी में तीन, भदोही, फिरोजाबाद, संभल, मुजफ्फरनगर, उन्नाव, संत कबीर नगर, अयोध्या, सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली और गोरखपुर में दो-दो लोगों की मृत्यु हुई है. साथ ही झांसी, जौनपुर, देवरिया, शाहजहांपुर, बस्ती, महाराजगंज, सुल्तानपुर, चंदौली, बहराइच, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, फर्रुखाबाद, औरैया, कानपुर देहात और बलरामपुर में कोविड-19 संक्रमित एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है. Also Read - मां ने डांटा तो 11 साल के बच्चे ने छोड़ा घर, साइकिल लेकर हरिद्वार को निकला, फिर...

सामने आए संक्रमण के नए मामलों में सबसे ज्यादा 514 मरीज लखनऊ में मिले हैं. इसके अलावा, गोरखपुर में 267, कानपुर नगर में 261, प्रयागराज में 175, गाजियाबाद में 156, वाराणसी में 148, कुशीनगर में 137 और बरेली में 130 मामले सामने आए हैं. Also Read - India Covid-19 Updates: देश में कोरोना से जान गंवाने वालों का आंकड़ा 90 हजार के पार, 83 हजार से ज्यादा नए केस आए सामने

इसके पूर्व, अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि कुल 1,09,607 लोग संक्रमणमुक्त होकर अस्पतालों से छुटटी पा चुके हैं. प्रदेश में संक्रमण के उपचाराधीन मामलों की संख्या 50,242 है, जिनमें से 25,008 लोग इस समय होम आइसोलेशन (घर पर एकांतवास) में हैं.

उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में भुगतान के आधार पर 1,719 लोग इलाज करा रहे हैं जबकि 283 लोग सेमी पेड व्यवस्था यानी एल-1 प्लस श्रेणी की सुविधा के तहत होटलों में इलाज करा रहे हैं. अपर मुख्य सचिव ने बताया कि सोमवार को प्रदेश में 9नमूनो की जांच की गई.

अब तक कुल 39,66,848 नमूनों की जांच की जा चुकी है. ये किसी भी एक प्रदेश द्वारा की गयी जांचों में पूरे देश में सर्वाधिक है. प्रसाद ने बताया कि कुल 61,081 इलाकों में सर्विलांस का कार्य किया गया है और अब तक 1,78, 65,534 घरों में 8,98,21,477 लोगों का सर्वेक्षण किया जा चुका है.

उन्होंने बताया कि ‘ई संजीवनी पोर्टल’ का भी उपयोग कर लगातार विभिन्न जिलों के लोग परामर्श प्राप्त कर रहे हैं. सोमवार को 1720 लोगों ने इस पोर्टल पर डॉक्टरों से सलाह प्राप्त की. उन्होंने बताया कि ‘कोविड हेल्पडेस्क’ निरंतर बनाये जा रहे हैं. ये प्रमुख कार्यालयों और प्रतिष्ठानों में स्थापित हो रहे हैं .

अपर मुख्य सचिव ने कहा, ‘हम लोगों ने मंगलवार को एक विज्ञापन दिया है, जिसमें निजी क्षेत्र के विशेषज्ञ फिजीशियनों से अनुरोध किया गया है कि वे अगर कोरोना से संघर्ष में सहयोग देना चाहते हैं तो अपना पंजीकरण करा सकते हैं. वे चाहें तो कोविड अस्पताल एल-2 एवं एल-3 में 15 दिन की सेवा दे सकते हैं.’ प्रसाद ने कहा, ‘विधानसभा का सत्र भी 20 अगस्त से प्रारंभ होने वाला है. इसके लिए व्यापक व्यवस्था की जा रही है. सभी विधायकों की जांच हो सके, इसके व्यापक प्रबंध कराये जा रहे हैं.’

(इनपुट भाषा)