लखनऊ/चित्रकूट: उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले की कर्वी कोतवाली क्षेत्र में लोढ़वारा गांव की कांशीराम कालोनी में बकरी घुसने का उलहना देने पर एक दलित महिला को जिंदा जलाकर मारने का मामला सामने आया है. घटना सामने आने के बाद कथित रूप से मारने के मामले में पुलिस ने शनिवार को दो पुरुष आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि चार महिला आरोपी अभी फरार हैं. Also Read - कॉल सेंटर घोटालेबाज: कनाडा में छात्रों को ठग रहा था भारतीय, कई और इसमें शामिल

Also Read - CSK vs RR: राजस्‍थान की जीत में इन पांच खिलाड़ियों ने निभाई अहम भूमिका

बिहार के आरा में दलित महिला को निर्वस्त्र घुमाने के लिए 20 को सजा Also Read - जानें क्या है 10 हजार करोड़ का आयुष्मान सहकार फंड, जिसे केंद्र सरकार ने किया लॉन्च

कर्वी के कोतवाल अनिल कुमार सिंह ने शनिवार को बताया कि गुरुवार को बार-बार बकरी घुस जाने का दलित महिला शीला (41) उलहना देने गई थी. इसी दौरान दलित महिला को लोढ़वारा गांव की कांशीराम कालोनी में ही रह रहे जुम्मन अपनी पत्नी प्रभा, बेटी राजिया और पड़ोसी राज तिवारी, उसकी पत्नी आरती और एक अन्य महिला मुन्नी बेगम के साथ मिलकर कथित रूप से उसके ऊपर किरोसिन तेल छिड़क कर आग लगा दी थी, जिससे इलाज के दौरान अस्पताल में उसकी मौत हो गई.

UP: बांदा में दलित परिवार पर हमला, 4 महिलाएं घायल

महिला को बचाने में उसका पति श्रीराम व बेटा गौरव भी झुलस गया था. उन्होंने बताया कि मृत महिला के पति की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर शनिवार को जुम्मन और राज तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया है, फरार चार महिलाओं की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.