UP Election 2021: उत्तर प्रदेश की 12 विधान परिषद सदस्य (MLC) सीटों पर चुनाव की अधिसूचना निर्वाचन आयोग (Election commission)ने जारी कर दी है. एमएलसी की इन सीटों के लिए 11 जनवरी से नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी जो 18 जनवरी तक चलेगी. 19 जनवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 21 जनवरी को नाम वापसी होगी.Also Read - विपक्षी दलों ने संविधान और बाबासाहेब का अपमान किया है, जनता इनको माफ नहीं करेगी: जेपी नड्डा

इन 12 सीटों के लिए  मतदान 28 जनवरी को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक होगा, उसी दिन शाम पांच बजे से मतगणना भी शुरू हो जाएगी. इस बार के चुनाव में मौजूदा विधायकों की संख्या के आधार पर बीजेपी को 12 में से 10 सीटें मिलने की संभावना है. Also Read - सपा नेता की दरोगा को धमकी- 'हमारे झंडे नोचोगे तो हम तुम्हारे बिल्ले नोच लेंगे', फिर हुआ ये

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद की ये 11 सीटें 30 जनवरी को खाली हो रही हैं जबकि एक सीट पहले से ही खाली है. इनमें से पहले से ही समाजवादी पार्टी  के पास छह सीटें हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के पास तीन, बहुजन समाज पार्टी के पास दो सीटें हैं. इसके अलावा एक नसीमुद्दीन सिद्दीकी की सीट खाली भी है. Also Read - Constitution Day: संविधान दिवस आज, संसद में होने वाले समारोह का कांग्रेस ने किया बहिष्कार, जानें वजह

वहीं कार्यकाल की बात करें तो भाजपा नेताओं में से उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, यूपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और राज्य के बीजेपी उपाध्यक्ष लक्ष्मण आचार्य का कार्यकाल 30 जनवरी को पूरा हो रहा है. वहीं उच्च सदन की एक सीट के लिए वोट काउंट 32 होगा और 309 विधायकों के साथ बीजेपी आसानी से 9 सदस्यों को विधान परिषद भेज सकती है. इसके बाद भी बीजेपी के पास 21 वोट बचे रह जाएंगे.