Lalitesh Pati Tripathi quits party post in Congress उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका देते हुए पार्टी उपाध्यक्ष और पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी ने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने ‘कांग्रेस’ को हटाते हुए अपना ट्विटर और फेसबुक प्रोफाइल भी बदल दिया है. कथित तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, सांसद राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को अपना इस्तीफा भेजने के बाद त्रिपाठी ने शनिवार रात अपने सभी मोबाइल फोन बंद कर दिए.Also Read - ममता बनर्जी की पार्टी TMC का हमला- 'कांग्रेस ने खुद को ट्विटर की दुनिया तक ही कर लिया सीमित'

यूपीसीसी अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने त्रिपाठी के इस्तीफे के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय ने कहा, “उन्होंने मेरी जानकारी के अनुसार पार्टी नहीं छोड़ी है. हालांकि, जो लोग चुनाव लड़ना चाहते हैं, उन्हें पार्टी के आला अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार अपने आधिकारिक पदों को छोड़ने के लिए कहा गया है.” Also Read - प्रशांत किशोर ने कहा- BJP दशकों तक मजबूत रहेगी, नरेंद्र मोदी की ताकत समझें राहुल गांधी

37 वर्षीय त्रिपाठी पूर्व मुख्यमंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष कमला पति त्रिपाठी के परपोते हैं. उनके पिता राजेश पति त्रिपाठी कांग्रेस के पूर्व एमएलसी रह चुके हैं. ललितेश वर्तमान में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे और प्रियंका गांधी की टीम में कार्यरत थे. उनके करीबी सूत्रों के अनुसार, वह बहुत जल्द समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं. Also Read - UP Elections 2022 Latest News: अखिलेश यादव ने ओमप्रकाश राजभर से हांथ मिलाकर किया गठबंधन, UP के मऊ से ग्राउंड रिपोर्ट | WATCH

ललितेश ने हाल ही में राज्य की अपनी यात्रा के दौरान प्रियंका गांधी के साथ सभी बैठकों में भाग लिया था. उन्हें कई पूर्वी जिलों में ग्राम स्तर पर संगठन बनाने का कार्य भी सौंपा गया था. ललितेश ने 2012 में मरिहान विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल की थी और मिर्जापुर से 2019 के संसद चुनाव में हार गये थे.

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के अनुसार, ललितेश को ‘नए’ पार्टी ढांचे में खुद को समायोजित करने में मुश्किल हो रही थी. इसके अलावा, उन्होंने कहा कि ललितेश लंबे समय से समाजवादी पार्टी के नेताओं के संपर्क में थे और विकल्प तलाश रहे थे. ललितेश पति त्रिपाठी तीसरे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और गांधी परिवार के भरोसेमंद हैं, जिन्होंने पार्टी से दूरी बना ली है.

इससे पहले पूर्व सांसद अन्नू टंडन और फिर जितिन प्रसाद ने पार्टी छोड़ दी थी. टंडन समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए, प्रसाद भाजपा शामिल हो गए.

(इनपुट आईएएनएस)