सुल्तानपुर: यूपी में बीते दो दिन से ठीक हुए मौसम और रिमझिम बारिश ने गर्मी से राहत तो दिला दी, लेकिन मौसम में बदलाव कहर लेकर भी आया. यूपी के सुल्तानपुर जिले में अलग-अलग थाना क्षेत्रों में शुक्रवार की देर शाम आई आंधी-बारिश के दौरान बिजली गिरने से तीन किशोरों समेत पांच लोगों की मौत हो गई और दो बच्चों समेत छह लोग झुलस गए. घायलों को सीएचसी ले जाया गया जहां एक किशोर की हालत नाजुक होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया. Also Read - सरकार द्वारा बनाए जा रहे धर्मांतरण कानून का पूरी तरह विरोध करेगी सपा: अखिलेश यादव

गांव से बाहर थे, तभी गिरी बिजली
आकाशीय बिजली गिरने की पहली घटना कोतवाली जयसिंहपुर क्षेत्र अमदेवा गांव की है. सूरज (12), अजीत (15) और रवीन्द्र (14) शुक्रवार की शाम को गांव के बाहर मौजूद थे, तभी अचानक आंधी-बारिश के बीच आकाशीय बिजली गिरने से तीनों इसकी चपेट में आ गए और तीनों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक युवक रितेश गंभीर रूप से झुलस गया. दूसरी घटना थाना अखण्डनगर क्षेत्र के डोमापुर की है. गांव की मनभावती (42), ज्योति (10) और संतोष (11) शाम को मवेशियों को चरा रहे थे कि आकाशीय बिजली गिरने से मनभावती की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि ज्योति तथा संतोष गंभीर रूप से झुलस गए. पुलिस चौकी प्रभारी महेन्द्र कुमार ने बताया कि मृतका का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. Also Read - सीएम योगी का बड़ा ऐलान, बोले- यूपी में शादी विवाह के लिए पुलिस या प्रशासनिक अनुमति की जरूरत नहीं

तीसरी घटना दोस्तपुर थाना क्षेत्र के बनी गांव की है. गांव की शोभावती (55) शुक्रवार की शाम को गांव में आम एकत्र कर रही थी, कि अचानक हुई बरसात से बचने के लिए वह एक छप्पर के नीचे चली गई। अचानक बिजली गिरने से शोभावती उसकी चपेट में आ गई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। इस घटना में रामबहाल, संतराजी तथा राहुल झुलस गये. Also Read - शिया धर्मगुरू मौलाना कल्बे सादिक का निधन, बेटे ने दी जानकारी, सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया दुख

अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अमरनाथ राय ने बताया कि जिले में शुक्रवार को आंधी-बरसात के दौरान बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत होने की सूचना प्राप्त हुई है। तहसीलदार को सभी स्थानों पर भेजा गया है। इन घटनाओं में मारे गये लोगों के परिवारों को चार-चार लाख रूपये की आर्थिक सहायता दी जायेगी.