शाहजहांपुर: उत्‍तर प्रदेश के शाहजहांपुर में जिले के वाजिद खेल मोहल्ले में शुक्रवार सुबह बरामदे में सो रहे एक परिवार के ऊपर दीवार गिर जाने के कारण मलबे में दबकर मां और चार बच्चों की मौत हो गई, जबकि एक बच्चा घायल हो गया. Also Read - यूपी में 31,661 असिस्‍टेंट टीचर्स की वैकेंसी की रिक्रूटमेंट प्रोसेस एक हफ्ते में पूरी होगी

वहीं, लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया और घायल बच्चे के समुचित इलाज के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार को मुख्यमंत्री पीड़ित सहायता कोष से 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने और इस हादसे में घायल बच्चे का समुचित इलाज कराने के निर्देश दिए हैं. Also Read - Unlock-4: बिहार से नेपाल, यूपी और झारखंड के लिए जल्द खुलेंगी बसें, हो रही तैयारी

जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि शहर कोतवाली अंतर्गत वाजिद खेल मोहल्ले में रहने वाली शबनम अपने घर में बने कमरे के बाहर फर्श पर अपने बच्चों के साथ सो रही थी. शुक्रवार सुबह बंदरों ने पड़ोसी की दीवार गिरा दी. Also Read - 17 साल के लड़के को महंगी लाइफ स्‍टाइल का लगा चस्‍का, दादाजी के खाते से निकाल ल‍िए 15 लाख रुपए

उन्होंने बताया कि दीवार का मलबा फर्श पर सो रही शबनम व अन्य पर गिरा. मलबे में दबने से शबनम (42) एवं उसके बच्चों रूबी (20) शाहबाज (5) चांदनी (3) सोहेब (8) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि साहिल 15 गंभीर रूप से घायल हो गया है, जिसे मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है शबनम के पति की पहले ही मौत हो गई है शबनम ही अपने इन बच्चों का सहारा थी .

सिंह ने बताया कि सूचना पर वह तथा पुलिस अधीक्षक एस आनंद तथा प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और दीवार के मलबे के नीचे दबे शवों को बाहर निकलवाया. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए है.

उधर, लखनऊ मे एक सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद शाहजहांपुर में दीवार गिरने की दुर्घटना में एक परिवार के 5 सदस्यों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है.