नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों के बाहर सभी शॉपिंग मॉल आठ जून से फिर से खोलने की अनुमति दे दी है. 8 जून से शॉपिंग मॉल के प्रबंधन को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव ने शासनादेश जारी करते हुए कहा कि कंटेनमेंट जोन/बफर जोन में कोई शॉपिंग मॉल नहीं खोला जाएगा. आदेश में कहा गया है कि यदि भविष्य में कोई क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता है तो उस क्षेत्र में स्थित शॉपिंग मॉल का संचालन तत्काल बंद किया जाएगा. Also Read - विकास दुबे एनकाउंटर: स्थिति रिपोर्ट पेश करेगी यूपी सरकार, 20 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

मुख्य सचिव ने कहा, “शॉपिंग मॉल के प्रत्येक द्वार एवं पार्किंग से लिफ्ट में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग तथा हैण्ड सेनेटाइज अनिवार्य होंगे, शॉपिंग मॉल में प्रत्येक 1000 वर्गफीट में 2 व्यक्तियों (कर्मचारियों को छोड़कर) की अनुमति होगी.” Also Read - बिहार: AIIMS- पटना में कोरोना संक्रमण के चलते 2 डॉक्‍टरों ने तोड़ा दम

इसके अलावा शॉपिंग मॉल में मास्क के बिना अनुमति नहीं होगी, शॉपिंग मॉल प्रात: 9 बजे से रात 9 बजे तक ही खोले जाएंगे. शॉपिंग मॉल परिसर एवं सार्वजनिक स्थानों पर थूकना पूर्णत: वर्जित रहेगा शॉपिंग मॉल में स्थित स्टोर/ शॉप के सभी स्टाफ द्वारा अनिवार्य रूप से मास्क एवं हैण्ड ग्लब्ज का उपयोग किया जाएगा. Also Read - Bengluru Lockdown: आज से लागू होगा टोटल लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या नहीं?

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों के बाहर सभी शॉपिंग मॉल आठ जून से फिर से खोलने की अनुमति दे दी. इसके अलावा मंत्रालय ने मॉल में सिनेमा हॉल, गेमिंग जोन और बच्चों के खेलने के स्थानों को बंद रखने का निर्देश दिया है. कोविड-19 के प्रसार के रोकथाम के लिए मंत्रालय द्वारा शॉपिंग मॉल के लिए जारी मानक संचालन प्रक्रियाओं के अनुसार, प्रवेश द्वार पर शरीर के तापमान की जांच अनिवार्य कर दिया गया है. चेहरा ढंकने या मास्क पहने हुए लोगों को ही मॉल में प्रवेश की अनुमति मिलेगी.

मंत्रालय ने कहा कि शॉपिंग मॉल में खरीदारी, भोजन करने या मनोरंजन के लिए रोजाना बड़ी संख्या में लोग आते हैं, इसलिए कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए इन स्थानों पर सामाजिक दूरी और अन्य उपायों का पालन किया जाना चाहिए. एसओपी के अनुसार, हाथ की स्वच्छता के लिए सैनिटाइजर मशीन और शरीर के तापमान की जांच करने के लिए उचित मशीनों का मॉल में विशेषकर प्रवेश द्वार पर प्रावधान अनिवार्य होगा और बिना किसी लक्षण वाले आगंतुकों को ही मॉल में प्रवेश दिया जाएगा. साथ ही चेहरा ढंकना या मास्क पहनना अनिवार्य होगा.