UP Police, Uttar Pradesh, Ghazipur, UP, UP Crime News,  News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजीपुर (Ghazipur) जिले में हेड कांस्टेबल ( head constable) मुंशी सिंह यादव (43) ने अपनी पत्नी निशा देवी (38) की धारदार हथियार से (killed his wife) हत्या कर दी. इसके बाद हेड कांस्टेबल खुद ट्रेन के आगे कूदकर (jumped in front of the train) आत्महत्या (committed suicide) कर ली. हेड कांस्टेबल ने अपने तीन बच्चों पर भी धारदार हथियार से हमला कर उन्हें लहूलुहान कर दिया.Also Read - यूपी: प्रधानाध्यापक समेत दो लोगों को गोली मार कर भाग रहे बदमाशों की पुलिस के साथ मुठभेड़, ये हाल हुआ

पुलिस अधीक्षक डॉ. ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि हेड कांस्टेबल यादव चर्म रोग से पीड़ित था और इस कारण अवसाद ग्रस्त रहता था और उसने पत्नी, बच्चों पर धारदार हथियार से वार कर दिया, उसके बाद ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली. हेड कांस्टेबल यादव गाजीपुर जिले के दिलदारनगर थाना क्षेत्र के उसियां गांव निवासी था. पुलिस सूत्रों के अनुसार, प्रयागराज में तैनात हेड कांस्टेबल (मुख्य आरक्षी) यादव जनवरी में अपने गांव उसियां आया था और तब से वह यहीं रह रहा था. इसी बीच उसका तबादला फतेहपुर जिला में हो गया. Also Read - यूपी विधानसभा में भातखंडे संस्कृति विश्वविद्यालय विधेयक-2022 समेत दो बिल पारित

पुलिस अधीक्षक डॉ. ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि शनिवार की भोर में हेड कांस्टेबल यादव के घर से बच्चों के चीखने की आवाज आने लगी तो वहां लोग पहुंचे और बाद में सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंच गयी लेकिन तब तक यादव भाग गया था. Also Read - यूपी: पुलिस की दबिश से परेशान महिला और उसकी दो बेटियों ने ज़हर खाया, तीनों की मौत, दरोगा के खिलाफ मुकदमा

घर की छत पर यादव की पत्नी रीना तथा उसकी पुत्री व पुत्र सुधा, कृष्णा व श्याम लहूलुहान पड़े हुए थे. सभी को सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने जांच के बाद रीना को मृत घोषित कर दिया और तीनों बच्चों को बेहतर इलाज के लिए वाराणसी रेफर कर दिया.

इधर, हेड कांस्टेबल यादव ने गांव के बाहर ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी. मृतक पुलिसकर्मी के भाई हीरा यादव की तहरीर पर पुलिस ने हत्या और आत्महत्या दोनों का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.