अमेठी: इंडोनेशिया की युवती और अमेठी के युवक बीच दोस्ती ऐसी परवान चढ़ी कि युवती अपना देश छोड़ युवक के गांव आ गई. एक दो दिन नहीं बल्कि वह पूरे एक माह तक गांव स्थित घर में रही. लोगों को इसका पता तब चला जब वह बीमार हुई और उसे अस्पताल ले जाया गया. डॉक्टरों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी. पुलिस के मुताबिक युवती के यहां होने की जानकारी उसे नहीं थी. नियम के मुताबिक युवती को यहां आने की जानकारी पुलिस को देनी चाहिए थी. Also Read - यूपी में जगह-जगह बम रखे होने की अफवाह, कई जिलों में धारा 144 लगाई गई, पुलिस सतर्क

इस तरह परवान चढ़ा रिश्ता
बताया जा रहा है कि अमेठी के कोतवाली इलाके के बेनीपुर गांव के रहने वाले संजीव श्रीवास्तव ने करीब एक साल पहले फेसबुक पर सागर दीवाना नाम से अकाउंट बनाया. फोटोग्राफी करने वाले संजीव की इस अकाउंट के जरिए एक इंडोनेशिया की महिला से पहचान हुई. शिति दह्लीना नाम की इस युवती से सागर का रिश्ता इतना बढ़ गया कि दोनों के बीच लगातार चैटिंग होने लगी. इसके बाद शिति ने भारत आकर सागर से मिलने का फैसला कर लिया. करीब एक माह पहले वह अपने देश से भारत भी आ गई. वह अमेठी स्थित युवक के गांव बेनीपुर पहुंच गई. Also Read - UP: Noida में एनकाउंटर में गोंडा के मेडिकल छात्र को ऐसे छुड़ाया, 70 लाख फिरौती की थी मांग

एक माह से गांव में रह रही है युवती
एक-दो दिन नहीं, बल्कि युवती पूरे एक माह तक युवक के गांव स्थित घर में रह रही है. इसका खुलासा तब हुआ जब वह बीमार हो गई. उसे अस्पताल ले जाया गया. विदेशी नागरिक होने की वजह से डॉक्टर्स ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने बताया कि युवती को यहां रहने की सूचना देनी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया. मामले की जांच की जा रही है. Also Read - PUBG Mobile Global Championship Live Streaming: यहां हिंदी में देखिए चैंपियनशिप, विनर टीम को मिलेंगे 700000 डॉलर

बिजनेस करती है युवती
संजीव उर्फ़ सागर ने बताया कि युवती की एक साल से दोस्ती थी. वह इंडोनेशिया की रहने वाली है. वह बिजनेस करती है. पिछले 19 अप्रैल को वह अमेठी स्थित उसके गांव पहुंच घर में रह रही थी. उसे गांव में रहना अच्छा लग रहा है.