भदोही: उत्तर प्रदेश की आगरा जेल में बंद जिले के ज्ञानपुर क्षेत्र के विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्‍णु मिश्रा के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया गया है.पुलिस के अनुसार, विष्‍णु मिश्रा के देश से फरार होने की एक सूचना पर यह नोटिस जारी किया गया है. Also Read - बुंदेलखंड के बांदा में कर्ज के चलते की किसान ने सुसाइड, पत्‍नी ने कहा- बैंक लोन की वसूली का था दबाव

लुक आउट नोटिस भागे हुए अपराधियों का पता लगाने के लिए जारी किया जाता है. इसका उपयोग अंतरराष्ट्रीय सीमाओं और अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर आरोपी को हिरासत में लेने के लिए किया जाता है. Also Read - इस डॉक्टर ने पेश की मिसाल, जरूरतमंद बेटियों को दे रहीं शिक्षा, जगा रहीं उम्मीद की अलख

भदोही पुलिस के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने ब्‍यूरो ऑफ इमीग्रेशन को एक पत्र जारी करते हुए कहा है कि विष्‍णु मिश्रा की एक आपराधिक और सामूहिक बलात्‍कार के मामले में पुलिस को तलाश है. Also Read - यूपी: युवती पर बना रहा था धर्म परिवर्तन का दबाव, ग‍िरफ्तार आरोपी पहुंचा जेल की सलाखों के पीछे

भदोही पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने शुक्रवार को बताया कि चार अगस्‍त को कौलापुर निवासी कृष्‍ण मोहन तिवारी ने विधायक विजय मिश्रा, उनकी पत्‍नी तथा विधान परिषद सदस्‍य राम लली मिश्र और बेटे विष्‍णु कुमार मिश्रा के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है. इस मामले में विजय मिश्रा को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि उनकी पत्‍नी को हाईकोर्ट से सशर्त अग्रिम जमानत मिली है.

विष्‍णु मिश्रा के विरूद्ध गैर जमानती वारंट के बाद उच्चतम न्यायालय से भी अग्रिम जमानत को लेकर दी गई अर्जी खारिज हो चुकी है और वह अभी तक फरार है. विष्‍णु के खिलाफ बलात्‍कार का भी एक मामला दर्ज है.