रायबरेली: रायबरेली में दिग्गज कांग्रेस नेता रहे एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने शनिवार को अमित शाह की रैली के दौरान भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली. वह पूरे परिवार के साथ बीजेपी में शामिल हुए. इसके बाद कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अब तक रायबरेली की जनता को ठगा है. अब रायबरेली की जनता उनको जवाब देगी. वहीं, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि बीजेपी गंगा की तरह पवित्र है. जो भी इस पार्टी में शामिल होता है वह पवित्र हो जाता है.Also Read - Rajasthan: T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक की जीत पर खुशी मनाने वाली टीचर अरेस्‍ट

दिनेश प्रताप सिंह बोले- मैं कांग्रेस से तंग आ गया था
बीजेपी में शामिल होने के बाद दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि मैं कांग्रेस से तंग आ चुका था. मैंने खुद फैसला किया था कि मुझे बीजेपी में शामिल होना है. मैं अमित शाह की चौखट पर गया था कि मुझे पार्टी ज्वाइन करनी है. बता दें कि 21 अप्रैल को योगी आदित्यनाथ कैबिनेट के करीब एक दर्जन मंत्री वहां मौजूद थे. इनकी मौजूदगी में दिनेश प्रताप सिंह और उनके परिवार ने बीजेपी की सदस्यता ली थी. Also Read - यूपी पुलिस ने T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक टीम की जीत का जश्‍न मनाने पर 7 लोगों को बुक किया

कांग्रेस के केवल दो विधान परिषद सदस्य
बीजेपी में शामिल होने के बाद दिनेश प्रताप सिंह की विधान परिषद की सदस्यता खतरे में है. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के केवल दो विधान परिषद सदस्य हैं. दिनेश प्रताप सिंह अब बीजेपी में जा चुके हैं. इस घटना को लेकर दूसरे विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह ने कहा कि बीजेपी में शामिल होकर एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने पार्टी विरोधी गतिविधि और दलीय संहिता का उल्लंघन किया है. माननीय सर्वोच्च न्यायालय (सुप्रीम कोर्ट) के मुताबिक दो तिहाई बहुमत के आधार पर ही दल-बदल को मंजूरी मिल सकती है. दिनेश प्रताप सिंह ने इसका उल्लंघन किया है, इसलिए कांग्रेस पार्टी उनकी सदस्यता खत्म करने की नोटिस देगी और प्रमाणित दल-बदल के आधार पर इनकी सदस्यता समाप्त हो जाएगी. Also Read - UP: सपा-सुभासपा के गठबंधन का ऐलान, अखिलेश बोले- बंगाल में खेला हुआ, UP में खदेड़ा होगा