लखनऊ: यूपी में फेसबुक और व्‍हाट्सएप के जरिये अफवाहें फैलाकर माहौल बिगाड़ने की कोशिश को नाकाम करने के लिए यूपी पुलिस ने कमर कस ली है. इस पर लगाम लगाने के लिए अब यूपी के हर जिले में मीडिया और सोशल मीडिया सेल के गठन की योजना बनाई गई है. इसके लिए प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने आदेश भी जारी कर दिया है. जिले और रेंज जोन में गठित होने वाले इन सोशल मीडिया सेल में इंस्‍पेक्‍टर रैंक का अधिकारी सेल प्रभारी होगा. साथ ही अधिकारी भी मीडिया से सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म के जरिये जुड़े रहेंगे.Also Read - Rajasthan: T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक की जीत पर खुशी मनाने वाली टीचर अरेस्‍ट

अफसर खुद करें ट्वीट
डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि संवेदनशील घटना होने पर इलाके के एसपी खुद ही अपना बयान रिकॉर्ड करें और उसे ट्वीट कर दें. ऐसा करने से ऐसी घटनाओं में पुलिस का पक्ष सामने आएगा. इससे यह भी पता चल जाएगा कि पुलिस ने किसी घटना पर क्‍या कार्रवाई की है और ये बात लोगों को भी सीधे रूप में पता चलेगी. Also Read - यूपी पुलिस ने T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक टीम की जीत का जश्‍न मनाने पर 7 लोगों को बुक किया

सोशल मीडिया सेल का नंबर किया जाएगा साझा
डीजीपी ओपी सिंह की ओर से जारी किए गए सर्कुलर के मुताबिक यह मीडिया/सोशल मीडिया सेल 24 घंटे काम करेगी. इसके अनुसार सोशल मीडिया सेल का सीयूजी नंबर भी साझा किया जाएगा. इसके जरिये अफसर सनसनीखेज और बड़ी घटनाओं पर अपना बयान भी अपलोड कर सकेंगे. साथ ही अफसर मीडिया को व्‍हाट्सएप के जरिये बाइट या अपने बयान दे सकेंगे. जानकारी के मुताबिक सभी आईजी रेंज और जोन के एडीजी कार्यालय में भी मीडिया सेल कार्यरत होगा. जानकारी के मुताबिक सोशल मीडिया सेल के लिए सभी जिलों में कैमरों की खरीद की जाएगी. मीडिया सेल में आईटी तकनीक को समझने वाले पुलिसकर्मी रखे जाएंगे. इन लोगों को इसकी और भी ट्रेनिंग दी जाएगी. Also Read - UP: सपा-सुभासपा के गठबंधन का ऐलान, अखिलेश बोले- बंगाल में खेला हुआ, UP में खदेड़ा होगा