लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के बहराइच जिले में कतर्नियाघाट वन्य जीव विहार के मझाव गांव में एक नर तेंदुए व एक गाय के शव ग्रामीणों को मिले हैं. वन विभाग के अधिकारियों का मानना है कि गाय के शिकार को लेकर संघर्ष में बड़े तेंदुए ने छोटे तेंदुए को मार दिया होगा. Also Read - बीजेपी से पहले से ही सांठगांठ, मायावती ने खुद ही खोली अपनी पोल: समाजवादी पार्टी

Also Read - यूपी का बिकरू हत्याकांड: जब्‍त हथियारों में कई लोगों के फिंगरप्रिंट्स मिले, क्‍या सजा दिलाने में होगी मुश्‍किल?

प्रभागीय वनाधिकारी जीपी सिंह ने शनिवार को बताया कि घटना स्थल के आस पास काफी सारे तेंदुए रहते हैं. घटनास्थल पर मृत तेंदुए के अलावा दो बड़े तेंदुओं के पदचिन्ह मिले हैं. डी.एफ.ओ. ने कहा कि माना जा रहा है कि गाय के शिकार को लेकर दो तेंदुओं में संघर्ष हुआ होगा जिसमें बड़े तेंदुए ने छोटे तेंदुए को मार दिया होगा. उन्होंने बताया कि दुर्लभ वन्यजीव की मौत की सटीक जानकारी कैमरा टैपिंग जांच व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मालूम हो सकेगी. Also Read - Video: तेंदुए के इस कारनामें को देख कायल हुए लोग, सोशल मीडिया पर बोले- अगले साल ओलंपिक में जाना

UP: कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय से 7 छात्राएं लापता, डीएम को भेजी रिपोर्ट

मृत तेंदुएका पोस्टमार्टम बरेली व दुधवा के विशेषज्ञ करेंगे

फिलहाल बरेली व दुधवा के विशेषज्ञ चिकित्सक तथा एक स्थानीय पशु चिकित्सक सहित तीन विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम शनिवार को मृत तेंदुए के शव का पोस्टमार्टम करेगी. प्रथम दृष्टया मृत मिले नर तेंदुए की उम्र करीब डेढ़ वर्ष आंकी जा रही है.  (इनपुट एजेंसी)