आगरा: विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल ताजमहल में बंदरों का आतंक बढ़ गया है. आज सुबह (22 मई) बंदरों ने फ्रांस की महिला एक अन्य विदेशी सैलानी पर हमला कर दिया. उन्हें आसपास के लोगों ने बचाया. बंदरों के हमले से दोनों पर्यटकों के पैरों से खून निकलने लगा. उन्हें तुरंत ही इलाज मुहैया कराया गया. इसके बाद सुरक्षा कर्मियों ने बंदरों को भगाया.

पैरों में काटा, निकलने लगा खून
बताया जा रहा है कि विदेशी पर्यटक महिला फ्रांस की है. वह और एक अन्य विदेशी पर्यटक ताजमहल में अंदर थे, इसी दौरान उन पर बंदरों ने हमला कर दिया. बंदरों ने दोनों के पैरों पर हमला किया. दोनों को आस-पास अन्य सैलानियों ने बचाया. जब तक बंदरों को भगाया जाता, तब तक उन्होंने विदेशी सैलानियों के पैरों में काट लिया. इससे उनके पैरों में खून निकलने लगा. मौके पर पहुंचे सीआईएसएफ के अधिकारियों व सुरक्षाकर्मियों ने घायल हुए विदेशी सैलानियों को प्राथमिक इलाज मुहैया कराया.

सुरक्षा व्यवस्था पर खड़े हुए सवाल
इस हमले ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं. बंदरों के हमले से विदेशी पर्यटक काफी डरे हुए हैं. वहीं, अन्य पर्यटक भी डर गए कि बंदर कहीं उन पर भी हमला न कर दें. ताजमहल मुख्य मकबरा व अन्य स्थानों के आसपास बंदरों का झुंड घूमता रहता है. आमतौर पर पर्यटक इनसे नहीं डरते हैं. और इनके आसपास घूमते रहते हैं, लेकिन इस हमले से पर्यटकों के मन में खौफ पैदा कर दिया है.