बलिया: बीजेपी सांसद रवीन्द्र कुशवाहा और विधायक सुरेंद्र सिंह अपनी ही सरकार के खिलाफ धरना देंगे. बीजेपी सांसद सलेमपुर रेलवे स्टेशन पर बार-बार कुछ ट्रेनों के ठहराव का अनुरोध न सुने जाने को लेकर नाराज हैं. वहीं, बीजेपी विधायक भ्रष्टाचार को लेकर योगी सरकार के खिलाफ धरना देंगे. इनका कहना है कि इन मामलों को लेकर उनकी बहुत किरकिरी हो रही है. दोनों ने ही मॉनसून सत्र के दौरान संसद परिसर में स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरना देने की घोषणा की है. Also Read - उत्तर प्रदेश: बेसिक शिक्षा विभाग में 69 हजार शिक्षकों की चयन प्रक्रिया पूरी, जल्द मिलेंगे नियुक्ति पत्र

सांसद की ट्रेनों के ठहराव की मांग नहीं सुनी गई
रवीन्द्र कुशवाहा सलेमपुर इलाके से बीजेपी के सांसद हैं. उनका कहना है कि सलेमपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों के ठहराव का उन्होंने वादा किया था. उन्होंने इतने समय में रेल मंत्री पीयूष गोयल को आठ बार पत्र लिखे, लेकिन कोई जवाब तक नहीं दिया गया. उनकी इलाके में जनता के बीच किरकिरी हो रही है. लोग बहुत नाराज हैं. Also Read - बुंदेलखंड के बांदा में कर्ज के चलते की किसान ने सुसाइड, पत्‍नी ने कहा- बैंक लोन की वसूली का था दबाव

विधायक पांच जून को देंगे धरना
बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने भी युपी में योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ बगावत का ऐलान किया है. विधायक ने बैरिया तहसील भ्रष्टाचार व्याप्त होने का आरोप लगाते हुए इसके विरोध में आगामी पांच जून को तहसील परिसर में धरना-प्रदर्शन करने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्ति थाने, तहसील और ब्लॉक पर अपनी समस्या लेकर जायेगा और उसकी सुनवाई नहीं होगी तो वह बीजेपी को वोट नहीं देगा. बीजेपी पारदर्शी सरकार नहीं दे सकी है. इससे पहले सुरेंद्र सिंह ने उपचुनावों में पार्टी की हार का ठीकरा यूपी सरकार, उसके मंत्रियों और नौकरशाही के सिर फोड़ते हुए कहा था कि अगर वे मंत्री अपने पद पर बने रहे तो भाजपा का गर्त में जाना तय है. Also Read - इस डॉक्टर ने पेश की मिसाल, जरूरतमंद बेटियों को दे रहीं शिक्षा, जगा रहीं उम्मीद की अलख