नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके पुत्र सपा के राष्ट्रीय अखिलेश यादव ने लखनऊ में अपने सरकारी बंगले खाली करने के लिये ‘उचित’ समय देने का आज उच्चतम न्यायालय से अनुरोध किया है. ये बंगले राज्य सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित किए थे. Also Read - Viral Post: पुलिस नहीं ढूंढ़ पा रही लापता भाई, बहन ने सोशल मीडिया पर लोगों से मांगी मदद

Also Read - सुप्रीम कोर्ट के वकील 'दिल्ली चलो' आंदोलन के समर्थन में उतरे, कहा- किसानों की मांगों को स्वीकारे सरकार

उचित समय देने की मांग की है Also Read - First Love Jihad Law Case: यूपी में 'लव जिहाद' कानून के तहत पहला मामला दर्ज, हिंदू लड़की का धर्म बदलवाना चाहता था उवैश अहमद

शीर्ष अदालत के सात मई के फैसले के संदर्भ में मुलायम सिंह यादव और उनके पुत्र अखिलेश यादव ने यह आवेदन दायर किया है. शीर्ष अदालत ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले आबंटित करने के लिये संबंधित कानून में किया गया संशोधन निरस्त कर दिया था. इस फैसले के बाद उत्तर प्रदेश के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले खाली करने हैं. दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों ने अपने आवेदन में सरकारी बंगले खाली करने के लिये उचित समय देने का अनुरोध किया है.

UP: राजनाथ सिंह ने सबसे पहले छोड़ा बंगला, मुलायम, अखिलेश, मायावती भी तलाश रहे आशियाना

सुप्रीम कोर्ट ने ही बंगला खाली करने को कहा था

शीर्ष अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि उप्र के पूर्व मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद सरकारी आवास अपने पास नहीं रख सकते. न्यायालय ने कहा था कि पद से हटने के बाद मुख्यमंत्री भी आम जनता के समान ही होता है. न्यायालय ने कहा था कि मुख्यमंत्री सरकारी बंगले जैसी सार्वजनिक संपत्ति पर काबिज नहीं रह सकते हैं क्योंकि यह देश की जनता की संपत्ति है.

यूपी के छह पूर्व मुख्‍यमंत्रियों को नोटिस, 15 दिन में खाली करने होंगे सरकारी बंगले

राजनाथ सिंह ने खाली किया बंगला, कल्‍याण भी जल्‍द करेंगे

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर यूपी के छह पूर्व मुख्यमंत्रियों में से राजनाथ सिंह ने सबसे पहले कालीदास मार्ग स्थित अपना आवास खाली कर दिया है. केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह एक सप्ताह के भीतर अपने निजी आवास में शिफ्ट हो जाएंगे. इसके लिए उनके आवास पर तैयारियां चल रही हैं. उनका नया पता 3/206 विपुलखण्ड होगा. इसके अलावा राजस्थान के राज्यपाल और यूपी के मुख्‍यमंत्री रहे कल्याण सिंह भी जल्‍द सरकारी बंगला खाली कर देंगे. कल्याण सिंह ने भी रविवार शाम तक अपना बंगला खाली करने के निर्देश दिए हैं. राज्य संपत्ति विभाग की ओर से कहा गया है कि पूर्व सीएम एनडी तिवारीके यहां नोटिस रीसिव नहीं हुआ है, जबकि अन्य सभी पूर्व सीएम ने नोटिस रिसीव कर लिया है.