मुरादाबाद: जनपद मुरादाबाद में ताबड़तोड़ हो रही लूट और हत्या की घटनाओं का सिलसिला थम नहीं रहा है. इन्हीं वारदातों के बीच रविवार देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई. इस मुठभेड़    के दौरान एक बदमाश को गोली लगने के बाद गिरफ्तार किया गया. जबकि उसके अन्य साथी फरार हो गए. मुठभेड़ में गोली लगने से घायल बदमाश हाल ही में जेल से छूट कर आया था. फिलहाल बदमाश को घायल अवस्था मे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पिता की फौजी वर्दी शौकिया पहन कर घूमता था युवक, पुलिस ने पकड़ के भेजा जेल

हालांकि समाजवादी पार्टी के मुखिया और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का कहना है कि उत्तर प्रदेश में होने वाली ज्यादातर मुठभेड़ फर्जी हैं. उन्होंने आगे कहा कि ये विपक्ष नहीं बल्कि ह्यूमन राईट कमीशन की रिपोर्ट कह रही है.

इस मुठभेड़ के बारे में जानकारी देते हुए एसपी सिटी अंकित मित्तल ने बताया, रविवार रात लैपर्ड द्वारा इलाके में गश्त की जा रही थी, उसी दौरान पुलिस को इस क्षेत्र में कुछ बदमाशों के होने की सूचना मिली थी. सूचना पर सचेत लैपर्ड पुलिस को कुछ लोग गुट बना कर अंधेरे में बैठे हुए दिखे. पुलिस टीम ने जैसे ही उन पर टॉर्च की रोशनी डाली, उन्होंने पुलिस कर्मियों पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके बाद लैपर्ड के जवान बाइक सहित नीचे गिर गए. हालांकि उन्होंने तुरंत संभलते हुए मोर्चा संभाला. एसपी सिटी ने बताया कि सूचना पर अतिरिक्त फोर्स मौके पर पहुंची. इस दौरान पुलिस की जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश को गोली लग गई. घायल बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अन्य बदमाशों की तलाश में पुलिस कांबिग कर रही है. (इनपुट एजेंसी)

एएमयू के छात्रों का आरोप- मांसाहारी खाने के तेल से बनता है शाकाहारी भोजन, यूनिवर्सिटी ने दिया ये जवाब