UP News: उत्तर प्रदेश के महाराजगंज के कोठीभार थाना क्षेत्र के एक गांव में बीते 23 जून को खेत में सब्जी तोड़ने गई एक नाबालिग बच्ची को गांव के ही एक युवक ने दबोच लिया और आरोपी ने मुंह बंद कर बच्ची के साथ खेत में ही दुष्कर्म किया था. उसके बाद पीड़िता के परिजनों को आरोपी युवक ने जान से मारने की धमकी भी दी थी. इस मामले को लेकर पंचायत बैठी लेकिन पंचायत ने अजीबोगरीब फरमान सुनाया.Also Read - कानपुर में सिख विरोधी दंगे में 127 लोगों की मौत हुई थी, अब 5 आरोपी और अरेस्ट, अब तक 11 गिरफ्तार

नाबालिग के परिजनों ने कहा कि आरोपी ने गांव के कुछ बड़े लोगों को अपने पक्ष में कर लिया और पंचायत कराकर मामले को दबाने का प्रयास करने लगा. वहीं, आरोपी को बचाने के लिए हुई पंचायत में पीड़िता के पिता को 24 जून को पंचायत में उपस्थित होने का फरमान जारी किया गया. इसके साथ ही पंचायत ने यह भी कहा कि अगर पिता पंचायत में उपस्थित नहीं हुआ तो पूरे परिवार को गांव से बाहर निकाल दिया जाएगा. Also Read - मुंबई : FIR कराने आई महिला से पुलिस अफसर का अफेयर, तीन साल तक होटलों में बनाते रहे शारीरिक संबंध

इतना ही नहीं, इसके बाद पंचायत ने दुष्कर्म के आरोपी को पांच चप्पल मारने और 50 हजार रुपये जुर्माना लगाकर बरी भी कर दिया. इस बीच 25 जून को पीड़िता की मां बेटी को लेकर कोठीभार थाने पहुंची और पुलिस को तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाने लगी. आरोप है कि पुलिस ने भी थाने से पीड़िता और उसकी मां को भगा दिया. जब बात आगे बढ़ गई तो पुलिस ने 26 जून को बच्ची के साथ दुष्कर्म की बजाय छेड़छाड़ की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर खानापूर्ति की. Also Read - यूपी के पीलीभीत में बड़ा हादसा: पेड़ से जा टकराई पिकअप वैन, 10 लोगों की मौके पर ही मौत, सात बुरी तरह घायल

जब मामला कोठीभार थाना प्रभारी धनवीर सिंह के पास पहुंचा तो उन्होंने बताया कि पीड़िता की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि हर हाल में समुचित कार्रवाई होगी. संबंधित थाने से जानकारी लेकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. आरोप सिद्ध हो जाने पर आरोपी को सजा दिलाई जाएगी.