UP News: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्य नाथ सरकार राज्य की जेल नियमावली में बदलाव करने पर विचार कर रही है, ताकि कैदियों का बेहतर रख-रखाव सुनिश्चित हो सके और जेलों को सुरक्षित बनाया जा सके. जेल विभाग द्वारा जेल नियमावली के संशोधित प्रारूप की प्रस्तुति देखने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि जेल में बंद कैदियों के रखरखाव में सुधार के प्रयास किए जाने चाहिए. उन्होंने कहा कि अधिकारियों को कैदियों को रचनात्मक गतिविधियों से जोड़कर उनके कौशल का विकास करना चाहिए ताकि वे रिहा होने के बाद सही मानसिकता के साथ सामान्य जीवन जी सकें.Also Read - यति नरसिंहानंद को यूपी पुलिस का नोटिस, कहा- जामा मस्जिद ना जाएं, नहीं तो होगी कार्रवाई

सरकार के प्रवक्ता के अनुसार योगी आदित्य नाथ ने जेल अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि महिला कैदियों के बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले. हालांकि मुख्यमंत्री ने कहा कि खतरनाक कैदियों से सख्ती से निपटा जाए. उन्होंने अधिकारियों से जेल के अंदर बंदियों की सुरक्षा और प्रभावी जेल प्रशासन सुनिश्चित करने को कहा. मुख्यमंत्री ने जेल के अंदर बंद कैदियों पर सीसीटीवी कैमरे से नजर रखने के भी निर्देश दिए. Also Read - UP Ki News: जेल में मजे से दशहरी आम खा रहा था मुख्तार अंसारी, प्रशासन ने डिप्टी जेलर सहित पांच को सस्पेंड किया

अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी आदर्श जेल नियमावली के प्रावधानों को भी मसौदा प्रस्ताव में शामिल किया गया है. मुख्यमंत्री को कारागारों की सुरक्षा व्यवस्था और जेल परिसर के अंदर कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए हथियार नीति शामिल करने से भी अवगत कराया गया. (IANS Hindi) Also Read - Noida News: नोएडा में ट्विन टावरों को गिराने की संभावित तारीख 21 अगस्त हुई, अधिकारियों ने बताई वजह