नोएडा: नोएडा पुलिस पीसीआर वाहन चालकों को पिछले 9 माह से सैलरी नहीं मिली है. इससे नाराज पुलिस पीसीआर वाहन चालक मंगलवार को हड़ताल पर चले गए. चालकों ने वाहन थानों और चौकियों में खड़े कर दिए. इससे पुलिस टीम डयूटी पर तक में भी नहीं जा सकी. पीसीआर चालकों का कहना है कि वेतन न मिलने से उन्हें घर चलाने में परेशानी हो रही है. खाने तक के लाले पड़ गए हैं. इसकी शिकायत कई बार नोएडा एसएसपी और एसपी से कर चुके हैं. 12 से अधिक रिमाइंडर दे चुके हैं. इसके बाद भी सैलरी नहीं दी गई. बता दें कि नोएडा में इस समय 50 से ज्यादा पीसीआर गाड़ी है. इनको चलाने के लिए 129 ड्राइवर रखे गए हैं जो अलग-अलग शिफ्ट में ड्यूटी करते हैं. इनके हड़ताल पर जाने से पुलिस टीम ड्यूटी के लिए नहीं जा सकीं. Also Read - Delhi-Ghaziabad Border Seal: नोएडा के बाद दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर सील, जिलाधिकारी ने जारी किया आदेश

9 महीने से नहीं मिली है सैलरी, खाने के पड़े लाले
नोएडा शहर में चलने वाली पीसीआर के ड्राइवर नोएडा प्राधिकरण के द्वारा रखे गए हैं. इन लोगों की सैलरी प्राधिकरण ठेकेदार के माध्यम से देता है. प्राधिकरण ने पिछले 9 महीने से चालकों को सैलरी ही नहीं दी गई. इससे नाराज पीसीआर चालक हड़ताल पर चले गए. संबंधित थाना चौकियों में पीसीआर वैन लगाकर सभी चालक नोएडा 6 स्थित प्राधिकरण के दफ्तर पर हड़ताल पर बैठ गए. Also Read - सीएम योगी पर राज ठाकरे का पलटवार, बोले- महाराष्ट्र में बिना इजाजत किसी मजदूर को नही मिलेगी एंट्री

15 दिनों के भीतर सैलरी दिलवाने का आश्वासन
मामला बढ़ता देख एसपी सिटी ने पीसीआर चालकों से मुलाकात की और 15 दिनों के भीतर सैलरी दिलवाने का आश्वासन दिया. एसपी सिटी का कहना है कि एसएसपी ने नोएडा प्राधिकरण से मुलाकात कर चालकों की सैलरी देने की बात की है. जल्द ही इस समस्या का समाधान निकाल लिया जाएगा. अगर पीसीआर चालक आज काम पर नहीं लौटे तो रात में शहर की सुरक्षा कौन करेगा, यह बहुत बड़ा सवाल है जिसका अभी तक कोई जवाब नहीं मिल पाया है. Also Read - Banking Correspondent Sakhi Yojna for womens in UP: इस खास सरकारी योजना के तहत महिलाओं को हर महीने मिलेंगे 4 हजार रुपए, जानें इससे जुड़ी खास बातें