महोबा: दो महिलाओं ने नौकरी का झांसा देकर बुलाया. इनके सहयोग के चलते इसके बाद तीन युवकों ने गैंगरेप किया. युवती न्याय के लिए थाने पहुंची, लेकिन न्याय की बजाय यूपी पुलिस के एक दरोगा ने उसे शिकार बना लिया. दरोगा ने उसके साथ रेप कर दिया. आरोप के बाद पीड़ित युवती का मेडिकल चेकआप कराया गया है. डीआईजी ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

प्यार, इकरार, फिर बने संबंध, प्रेग्नेंट हुई प्रेमिका तो भाग गया प्रेमी, पुलिस ने ऐसे कराया मिलन

मामला यूपी के महोबा जिला का है. कानपुर की रहने वाली 16 वर्षीय पीड़िता के अनुसार, उसे दो महिलाओं ने महोबा में नौकरी के लिए बुलाया. वह नौकरी की जरूरत थी. वह महोबा पहुंची, लेकिन इन महिलाओं ने उसे तीन युवकों के हवाले कर दिया. तीनों ने उसके साथ गैंगरेप किया. उसका एमएमएस बनाते हुए आरोपियों ने दरिंदगी करते हुए उसे सिगरेट से जलाया. वह किसी तरह से उनके चंगुल से छूटी. युवती के मुताबिक महोबा कोतवाली में उसने शिकायत दर्ज कराई, लेकिन न्याय की बजाय इस घटना की जिस दरोगा को जांच सौंपी गई, उसी ने उसके साथ रेप किया.

हॉस्टल में दो सहेलियां को हुआ प्यार, शादी तय होने पर दूल्हे को बता दी ‘लेस्बियन’ होने की सच्चाई, अब किया ये

पीड़िता का आरोप है कि दरोगा ने उसके परिजनों को भी परेशान किया और164 के तहत उसके बयान भी बदलवा दिए. उसके साथ कमरे में ले जाकर रेप किया. वह न्याय के लिए भटक रही है. मामला सामने आने के बाद पुलिस महकमे में हलचल मच गई. डीआईजी के आदेश पर पीड़िता का मेडिकल चेकअप कराया गया. बयान दर्ज कराने के बाद बाल कल्याण समिति भेजा गया है. महोबा पुलिस ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है. इसके बाद कार्रवाई की जाएगी.