लखनऊ/कानपुर : यूपी पुलिस और आईआईटी कानपुर के बीच होगा एमओयू. उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रबंधन को बेहतर,गुणवत्तापूर्ण और सस्ती तकनीकि से सुसज्जित करने हेतु अब कानपुर स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान सहयोग करेगा. पुलिस महानिदेशक कार्यालय के प्रवक्ता ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि आईआईटी के प्रतिनिधि मंडल और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के बीच निकट भविष्य में एमओयू पर हस्ताक्षर करने के लिए रविवार को बैठक हुई.

साइबर क्राइम पर लगेगा अंकुश
प्रवक्ता ने बताया कि साइबर क्राइम कि बढ़ती घटनाओं को देखते हुए इस बैठक में यह निर्णय किया गया कि आईआईटी से पुलिस को उसकी क्षमताओं में तीव्रतर वृद्धि करने में सहयोग लिया जाएगा. जैसे – टेकनालजी की क्षमता में वृद्वि करने, हाइली एडवांस सोशल मीडिया लैब की स्थापना करने, रेडियो मुख्यालय की संचार व्यवस्था का अध्य्यन कर उसकी क्षमताओं को और बढ़ाने में सहयोग इत्यादि.

ड्रोन तकनीकि को और विकसित करेगा आईआई टी
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, पुलिस की ड्रोन तकनीक का विशलेषण कर अच्छी क्षमता वाले सस्ते ड्रोन कैमरा उपलब्ध कराने में भी सहयोग करेगा. पुलिस के मुताबिक यह ड्रोन कैमरा प्रयागराज में 2019 में आयोजित होने वाले कुम्भ मेले की निगरानी और सुरक्षा व्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देंगे. इसके अतिरिक्त ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के स्वास्थ्य को देखते हुए उन्हें प्रदूषण के चलते होने वाले श्वांस के रोगों में कमी लाने और सुचारू यातायात प्रवर्तन के लिए कम कीमत के ब्रीथ एनाइलजर विकसित कर उपलब्ध कराएगा. पुलिस महकमे में आईआईटी कानपुर के साथ होने वाले इस करार को लेकर खासा उत्साह है.
( इनपुट एजेंसी )