बदायूं (उत्तर प्रदेश): उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में एक व्यक्ति के कारण 14 गांवों को क्वारंटीन कर सीमाएं सील कर दी गई हैं. इसकी जानकारी जिला मजिस्ट्रेट ने सोमवार को दी. आंध्र प्रदेश से आने वाला यह शख्स एक स्थानीय मस्जिद भवानीपुर खली इलाके में रह रहा था, जिसे शनिवार को कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया. Also Read - कोरोना टेस्ट होने तक पायल घोष रहेंगी आइसोलेट, रामदास अठावले की मौजूदगी में पार्टी में हुई थीं शामिल

कोरोना वायरस से संक्रमित शख्स पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुआ था. जिला मजिस्ट्रेट कुमार प्रशांत ने कहा, “उस व्यक्ति का कोरोना वायरस परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद जिला प्रशासन ने उस गांव से तीन किलोमीटर के दायरे में आने वाले 14 गांवों को सील कर दिया है, जिस गांव में वह व्यक्ति रहता था. 14 गांवों को क्वारंटीन कर दिया गया है.” Also Read - ज्यादा समय तक वायु प्रदूषण का सामना करने वाले होशियार, कोरोना से मौत का खतरा बढ़ा

अधिकारी ने कहा कि गांवों की सीमाएं भी सील कर दी गई हैं, और क्षेत्र में जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं. उन्होंने कहा कि गांव में आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध कराई जा रही हैं और संदिग्ध मामलों के परीक्षण किए जा रहे हैं. बता दें कि आज लखनऊ में दो दिनों के बाद कोरोना संक्रमित 4 मरीजों की पुष्टि की गई है. इन मरीजों में एक को केजीएमयू में भर्ती कराया गया है जबकि बाकी तीनों का इलाज सिविल अस्पताल में चल रहा है. जानकारी के अनुसार सभी संक्रमित लखनऊ के सदर इलाके के रहने वाले है. यूपी में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 500 पार कर चुका है. वहीं कोरोना के कारण 5 लोगों की मौत हो चुकी है. Also Read - कोरोना के चलते काली हो गई थी चीन के इस डॉक्टर की त्वचा, अब नॉर्मल होकर लौटा; साथी गंवा चुका है जान