भदोही: उत्तर प्रदेश के भदोही के भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी और उनके तीन बेटों तथा तीन भतीजों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज कराने वाली पीड़िता को मुकदमा वापस लेने की धमकी मिलने के बाद उसकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है. Also Read - CoronaVirus Death: सलोन के BJP MLA दल बहादुर कोरी की कोरोना से मौत, सीएम योगी हुए दुखी

पीड़िता ने आरोप लगाया कि उससे अवैध संबंध की शुरुआत करने वाले विधायक के भतीजे संदीप तिवारी ने फेसबुक पर धमकी देते हुए कहा है की मामला वापस ले लो वरना तेरे भाइयों की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. Also Read - कोरोना वायरस के चलते हुई भाजपा विधायक की मौत, तीन दिन बाद पत्नी का भी निधन

एसपी राम बदन सिंह ने कहा की महिला की सुरक्षा में दो महिला और एक पुरुष कांस्टेबल तैनात किए गए हैं, जो चौबीसों घंटे उसके साथ रहेंगे. Also Read - ऐसे हर दूल्हा-दुल्हन को घर बुलाकर डिनर क्यों कराना चाहते हैं पुलिस अफसर, ख़ास है वजह

महिला की शिकायत पर बुधवार को भदोही से भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी सहित सात लोगों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज हुआ है.

एसपी सिंह ने बताया कि महिला ने 10 फरवरी को एक तहरीर देकर आरोप लगाया था कि उसके साथ भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी और अन्य ने एक होटल में एक महीना तक बारी-बारी से बलात्कार किया. इसके अलावा एक बार जब वह गर्भवती हुई तो ज़बरदस्ती उसका गर्भपात करा दिया.

उन्होंने बताया कि मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक रविन्द्र वर्मा को सौंपी गई थी. महिला के बयान और होटल सहित तमाम बिन्दुओं पर जांच के बाद भाजपा विधायक समेत सातों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 164 के तहत पीड़ित महिला का मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान दर्ज हो गया है. उन्होंने कहा कि महिला की मेडिकल जांच शनिवार को होनी है. उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी. इस संबंध में प्रतिक्रिया के लिए विधायक से संपर्क किए जाने पर उनका मोबाइल फोन बंद मिला.