नई दिल्ली: आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने बुधवार को इलाहाबाद के फाफामउ में गंगा नदी पर राष्ट्रीय राजमार्ग-96 पर 1,948.25 करोड़ की लागत से 9.9 किलोमीटर लंबे छह लेन के पुल के निर्माण को मंजूरी प्रदान कर दी है. इस परियोजना की अवधि तीन साल है और इसे 2021 तक पूरा किया जा सकता है. नया पुल बनने से फाफामउ में मौजूदा दो लेन वाले पुल पर यातायात का दबाव कम होगा. Also Read - यूपी में लॉकडाउन को लेकर नए नियम जारी, अब दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद आने का फैसला DM लेंगे

नए पुल से इलाहाबाद में कुंभ, अर्धकुंभ और वर्ष में संगम स्नान परंपरा के अन्य अवसरों पर लोगों को भीड़भाड़ से मुक्ति मिलेगी. सरकार की ओर से कहा गया कि इससे प्रयाग में पर्यटन व वहां की अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन मिलेगा. पुराने पुल की क्षमता महज 15,000 कारों की है जबकि इस समय उस पर 40,000 कारों का भार है. लिहाजा लोगों को दिन-रात भारी जाम से जूझना पड़ता है. Also Read - यूपी में 8 जून से खोले जाएंगे धार्मिक स्थल, होटल, रेस्तरां और शॉपिंग मॉल; जुलाई में खुलेंगे स्कूल

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि 2014 में इलाहाबाद से फरक्का के बीच गंगा पर महज 13 पुल थे, मगर 20 अतिरिक्त पुल बनाए जाने की योजना तैयार की गई, जिनमें पांच चालू हो गए और सात निर्माणाधीन है. इस तरह गंगा पर अब इलाहाबाद और फरक्का के बीच 13 पुल हो जाएंगे. Also Read - Railway and Flights Rules and Regulations: 1 जून से बदलने वाले हैं रेलवे, बस और फ्लाइट्स के ये नियम, बरतनी होगी सावधानी