लखनऊ: समाजवादी पार्टी ने अखिलेश यादव द्वारा छोड़े गए बंगले में सीएम योगी आदित्यनाथ पर तोड़फोड़ कराने का आरोप लगाया है. सपा के एमएलसी सुनील साजन ने आरोप लगाया कि उप चुनाव में हार की हताशा में ये सब कराया जा रहा है. अखिलेश यादव को बीजेपी बदनाम करना चाहती है, इसलिए सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर बंगले में तोड़फोड़ कराई गई. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि अपनी बदनामी से बचने के लिए भाजपा सरकार ने यह साजिशी रणनीति बनाई है. सपा इस मामले में आज प्रेस कांफ्रेंस करेगी.

बता दें कि एक दिन पहले ही अखिलेश यादव ने बंगले में तोड़फोड़ के सवाल पर कहा था कि अगर उन्होंने ऐसा किया है तो सरकार उन्हें नुकसान की लिस्ट सौंपे. वह नुकसान की भरपाई करने को तैयार हैं. राजस्व विभाग ने शनिवार को बंगला मीडिया को दिखाने के लिए खोला था. इसके बाद कई हिस्से की बंगले में तोड़ फोड़ किए जाने की तस्वीरें सामने आई थीं. जिम वाले हिस्से में सबसे ज्यादा नुकसान था. सीएम का कहना था कि जो सामान उनका था वो ले आए. उन्होंने कोई नुकसान नहीं किया.

सरकारी बंगला उजाड़ने के सवाल पर अखिलेश बोले- बदनाम कर रही बीजेपी, नुकसान की लिस्ट सौंपे

वहीं, इसी मामले में बीजेपी सरकार के परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने इस मामले को लेकर कहा कि बंगले में तोड़फोड़ नहीं करनी चाहिए थी. ये सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना है. इसकी जांच होनी चाहिए. अखिलेश को एसी जैसी चीज़ें निकालकर नहीं ले जानी चाहिए थी.