मेरठ: शहर के कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में एसटीएफ ने मुठभेड़ के दौरान 25-25 हजार रुपये के दो इनामी बदमाशों को मार गिराया. पुलिस के मुताबिक, दोनों बदमाश करीब एक महीने पहले दिल्ली-देहरादून राजमार्ग पर दुल्हन की हत्या कर लूट की घटना को अंजाम देने के मामले में वांछित थे. Also Read - यूपी में बच्‍चों के यौन शोषण मामला: बर्खास्त बीजेपी नेता के लैपटॉप में मिले कई अश्लील वीडियो

Also Read - यूपी: पुलिस जवान पर महिला सिपाही के साथ रेप का आरोप, किराए का मकान दिखाने के बहाने ले जाकर की वारदत

रिश्‍तों का कत्‍ल: भाई और उनके दोस्‍त को मार डाला, बीच-बचाव करने आईं भाभी को भी किया जख्मी Also Read - UP:समाजवादी पार्टी ने विधानपरिषद चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की घोषणा की, जारी की लिस्‍ट

पुलिस क्षेत्राधिकारी बृजेश कुमार सिंह ने बुधवार को बताया कि मुठभेड़ में मारे गये बदमाशों की पहचान हिमांशु और धीरज चौधरी के रूप में हुई है. दोनों 27 अप्रैल को दिल्ली-देहरादून राजमार्ग पर दौराला क्षेत्र में हुई दुल्हन की हत्या और लूट के मामले में वांछित थे. सिंह ने बताया कि दोनों बदमाशों के पास से 9 एमएम कारबाइन, दो मैग्जीन, दो पिस्तौल, 315 बोर का एक तमंचा, 44 कारतूस और एक हीरो होंडा बाइक आदि सामान मिला है.

मारे गए दोनों बदमाशों पर थे गंभीर आरोप

उन्होंने बताया कि एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह को मंगलवार तड़के इन दोनों बदमाशों के बारे में सूचना मिली थी. उसी आधार पर की गयी कार्रवाई के दौरान हुई मुठभेड़ में दोनों मारे गये. सिंह ने बताया कि हिमांशु उर्फ नरसी और धीरज चौधरी पर मेरठ और गाजियाबाद के विभिन्न थानों में लूट, हत्या और डकैती आदि के एक दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं. दोनों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित था. दोनों सिद्वार्थनगर जेल में बंद योगेश भदौड़ा के गिरोह के सदस्य थे. (इनपुट एजेंसी)