लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को एक आदेश जारी कर अधिकारियों से साफ-साफ कहा है कि वे विदेश यात्राओं, प्रकाश सामग्री और विज्ञापनों पर होने वाले खर्च में कटौती करें. प्रदेश सरकार ने खर्च में कटौती करने के साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे पांच सितारा संस्कृति से बाज आएं.

यूपी के हर नगर निगम में बनेगा ‘अटल गौरव पथ’, जिस पर चलकर आप कहेंगे ‘मजा आ गया’

बुधवार को जारी सरकारी आदेश में अधिकारियों के बिना जरूरत विदेश यात्रा पर जाने पर रोक लगा दिया गया है. उन्हें कहा गया है कि जरूरत होने पर वे बिजनेस क्लास में नहीं बल्कि विमान के इकोनॉमी क्लास से यात्रा करें. आदेश में कहा गया है कि बगैर जरूरत के विज्ञापन और प्रचार-प्रसार ना किया जाये. लेखन सामग्री, कार्यालय व्यय, आतिथ्य व्यय भी सीमित किया जाये. जब तक बहुत ज्यादा जरूरत ना हो दफ्तरों में नए फर्नीचर और नई साज सज्जा ना की जाये.

यूपी कैबिनेट ने लिए कई अहम फैसले, नई धान खरीद नीति मंजूर कर किसानों को दिया तोहफा

ई-मेल, वीडियो कांफ्रेंसिंग सुविधा का हो ज्यादा इस्तेमाल
उसमें कहा गया है कि संचार के लिए ई-मेल, वीडियो कांफ्रेंसिंग सुविधा का ज्यादा इस्तेमाल किया जाए ताकि स्टेशनरी का कम प्रयोग हो. साथ ही बैठकों में भाग लेने के लिए यात्रा पर होने वाला खर्च भी इससे सीमित होगा. सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय ने इस आशय में आदेश जारी किये हैं. (इनपुट एजेंसी)