गाजियाबाद: कुछ दिन पहले ही लखनऊ में 50 लाख पुरानी करेंसी मिलने के बाद आज गाजियाबाद में 1 करोड़ पुराने नोटों के साथ 10 लोगों को अरेस्ट किया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. ये रुपए नेपाल ले जाए जा रहे थे. Also Read - Coronavirus Vaccination: इस देश ने कोविड-19 के लिए भारत में बनी एस्ट्राजेनेका के टीके को दी मंजूरी

Also Read - Earthquake In Noida Ghaziabad: नोएडा में महसूस किये गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 2.9 रही तीव्रता

नेपाल में बदलने को ले जाए जा रहे थे नोट Also Read - Driving License Latest Update: अब चुटकियों में बन जाएगा ड्राइविंग लाइसेंस, बदल गए हैं नियम, जानिए

गाजियाबाद के थाना कवि नगर के एसएचओ प्रदीप कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सूचना के बाद उन्होंने टीम के साथ छापेमारी की, जिसमें एक करोड़ की पुरानी करेंसी बरामद की गई है. 10 लोगों को भी अरेस्ट किया गया है. करेंसी राजनगर एक्सटेंशन से दिल्ली ले जाई जा रही थी. इसके बाद इसे नेपाल ले जाया जाता, लेकिन इससे पहले ही पकड़ लिए गए. बताया जा रहा है कि पकड़े गए सभी लोग कमीशन एजेंट हैं और इनको पुरानी करेंसी बदलवाने पर एक फीसदी कमीशन मिलना था. ये रकम उन्हें किसने दी ये अभी पता नहीं लग पाया है.

नेपाल में 14 लाख में खरीदे जा रहे पुराने 1 करोड़ रुपए, UP में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, चार अरेस्ट

लखनऊ में भी किए गए अरेस्ट

दो दिन पहले ही लखनऊ में पुलिस ने 50 लाख पुरानी करेंसी के साथ चार लोगों को अरेस्ट किया था. ये लोग पुराने नोट नेपाल में जाकर बदलने वाले थे. यहां से उन्हें 1 करोड़ के बदले 14 लाख रुपए और 50 लाख के बदले सात लाख रुपए मिलते थे. बाद में पुरानी करेंसी को लखनऊ में एक बैंक के असिस्टेंट मैनेजर की सांठगांठ से बदल दिया जाता था.

क्राइम ब्रांच की टीम ने किया था अरेस्ट

ये चौंकाने वाला खुलासा लखनऊ में हुआ था. शनिवार की शाम लखनऊ क्राइम ब्रांच व पुलिस ने हजरत गंज से चार लोगों को अरेस्ट किया. इनके पास से 50 लाख की पुरानी करेंसी बरामद हुई थी. राजेश कुमार गौतम, कृष्णा कुमार, सुमित वर्मा अमर नाथ यादव नाम के चार लोगों को स्विफ्ट कार से नोटों के साथ पकड़ा. सभी एक हजार व 500 के नोट थे. ये लोग पुरानी करेंसी को नेपाल पहुंचाने वाले थे. इसका इन्हें कमीशन मिलने वाला था.