लखनऊ: उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ के तरवां थाने के बांसगांव में प्रधान की हत्या के बाद हिंसा पर उतरे ग्रामीणों ने पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया. जिले के तरवां इलाके में एक ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या कर दी गई. जिसके बाद विरोध में उतरे ग्रामीणों ने बोंगरिया पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया है. Also Read - यूपी में 31,661 असिस्‍टेंट टीचर्स की वैकेंसी की रिक्रूटमेंट प्रोसेस एक हफ्ते में पूरी होगी

यही नहीं हिंसा पर उतरे ग्रामीणों ने पुलिस चौके के अलावा वहां खड़े कई वाहनों में भी आ लगा दी है. हालांकि मौके पर कई थानों की पुलिस समेत जिले के पुलिस अधीक्षक भी मौजूद हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने तत्काल कार्रवाई करते हुए थानाध्यक्ष और चौकी प्रभारी को सस्पेंड करने और दोषियों के खिलाफ गैंगस्टर लगाने और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं. Also Read - Unlock-4: बिहार से नेपाल, यूपी और झारखंड के लिए जल्द खुलेंगी बसें, हो रही तैयारी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बांसगांव में प्रधान सत्यमेव राम को घर से बुलाकर सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई. इसके बाद गांव में भारी आक्रोश देखा जा रहा है. Also Read - 17 साल के लड़के को महंगी लाइफ स्‍टाइल का लगा चस्‍का, दादाजी के खाते से निकाल ल‍िए 15 लाख रुपए

बता दें कि एक दिन पहले ही आजमगढ़ जिले के देवगांव क्षेत्र में बृहस्पतिवार रात ग्राम प्रधान के पति और उसके साथियों ने अपने घर पर आयोजित समारोह के दौरान हिस्ट्रीशीटर पिता और उसके बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी थी. देवगांव कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर पिता और उसके पुत्र की हत्या किये जाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क पर रास्ता जाम कर प्रर्दशन किया. स्थिति तनावपूर्ण होने के बाद गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.