लखनऊ: यूपी शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना सज्जाद नोमानी के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज कराया है. हैदराबाद में हुई एआईएमपीएलबी की मीटिंग में 9 फरवरी को भड़काऊ भाषण देने को लेकर यह एफआईआर दर्ज हुई है. नोमानी के खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज थाने में यह एफआईआर दर्ज की गई है. Also Read - UP: MLC Election ड्यूटी में तैनात IAS अधिकारी का हार्ट अटैक से निधन, CM योगी ने शोक जताया

बता दें कि वसीम रिजवी ने 13 फरवरी को हजरतगंज थाने में शिकायत की थी कि नोमानी ने 9 फरवरी से शुरू हुई एआईएमपीएलबी मीटिंग में हिंदुस्तानी मुसलमानों को भड़काने वाला भाषण दिया था. वसीम रिजवी के अनुसार मौलाना सज्जाद नोमानी ने यह भाषण देश में धार्मिक फसाद कराने के उद्देश्य से दिया था. जिसके बाद रिजवी ने टीवी चैनल की सीडी भी पुलिस को सौंपी थी जिसके बाद. Also Read - Delhi Traffic Latest Alert: आज भी दिल्‍ली के कई बॉर्डर बंद, असुविधा से बचने इन रूट्स का करें उपयोग

हजरतगंज थाने में नोमानी के खिलाफ आईपीसी की धारा 124ए, 153ए, 153बी और 298 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है. रिजवी की शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच की और 20 दिन बाद कल नोमानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की. हालांकि मौलाना सज्जाद नोमानी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है.(भाषा इनपुट ) Also Read - UP Legislative Council की 11 सीटों पर मतगणना जारी, जल्‍द आएंगे परिणाम