मथुराः उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में गठित उप्र ब्रज तीर्थविकास परिषद मथुरा जनपद में तीर्थाटन एवं पर्यटन विकास के लिए 42 करोड़ से अधिक राशि की लागत से कई विकास कार्य कराने जा रही है. इन विकास कार्यों में पुराने स्थलों, सड़कों का जीर्णोद्धार, नई सड़कों एवं अन्य सुविधाओं का निर्माण कार्य शामिल है.

तीर्थविकास परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नागेंद्र प्रताप ने बताया, ‘‘इस संबंध में परिषद की जिला स्तरीय समिति की एक बैठक उपाध्यक्ष शैलजाकांत मिश्र की अध्यक्षता में हुई. बैठक में जनपद के पर्यटन विकास की योजना को अंतिम रूप देते हुए तय किया गया कि दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित गोकुल में के राही पर्यटन भवन परिसर में 393.55 लाख रुपये से टूरिस्ट फैसिलिटेशन सेण्टर का निर्माण, 273.67 लाख रुपये से टॉयलेट ब्लॉक एवं आंतरिक विकास कार्य, 226.64 लाख रुपये से नए घाट का निर्माण और मुरली घाट पर होली चबूतरे का सौन्दर्यीकरण कार्य कराया जाएगा.’’

कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा अध्यक्ष, पार्टी की हालत बिना ड्राइवर वाली ट्रेन और बिना पायलट के विमान की तरह : आदित्यनाथ

उन्होंने बताया, ‘‘165 लाख रुपये से मथुरा के ब्रज चौरासी कोसीय परिक्रमा मार्ग में दर्शनीय स्थलों तथा गांव हेतु संकेतक साईनेज लगाने का कार्य किया जाएगा.’’ प्रताप ने बताया, ‘‘वृन्दावन स्थित टूरिस्ट फैसिलिटेशन सेण्टर के संचालन हेतु जनरेटर, एसी एवं कूलर आदि के लिए 11.88 लाख रुपये, नन्दगांव स्थित पावन सरोवर के सौन्दर्यीकरण के लिए 48.81 लाख रुपये, नन्द मन्दिर के विद्युतीकरण के लिए 76.08 लाख रुपये लगाए जाएंगे.

पुष्पेन्द्र एनकाउंटर: भाई ने पुलिस पर लगाया आरोप, कहा- जांच में हमसे नहीं की जा रही बात

इसके अलावा नन्दगांव स्थित वृद्धाकुण्ड का सौन्दर्यीकरण एवं पहुंच मार्ग के लिए 344.28 लाख रुपए सहित कुल 22 परियोजनाओं हेतु 42 करोड़ 32 लाख रुपए की योजना को सर्वसम्मति से मंजूरी दी गई है.’’