उत्तर प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों के लिए सीएम अखिलेश यादव ने आज बड़ी खुशखबरी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में सोमवार को कैबिनेट की अहम बैठक हुई, इस बैठक में अब यह निर्णय लिया गया है की उत्तर प्रदेश में अब राज्य सरकार ने कर्मचारियों व शिक्षकों का मकान किराया भत्ता 20 फीसदी बढ़ाने का फैसला लिया। इसका लाभ तकरीबन 22 लाख कर्मचारियों और शिक्षकों को मिलेगा। सरकार ने इसके साथ ही सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी जी. पटनायक को सातवें वेतनमान कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया है। Also Read - हाथरस के बाद बलरामपुर में सामूहिक दुष्कर्म, अस्पताल ले जाते समय पीड़िता की मौत

Also Read - कोर्ट ने मथुरा में कृष्‍ण जन्‍मभूमि से लगी मस्जिद को हटाने की याचिका खारिज की, इस एक्‍ट का दिया हवाला

बता दें की अब राज्य कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों का लाभ देने का काम शुरू हो जाएगा। वही सीएम अखिलेश यादव के इस बैठक में पर्यटक आवास गृहों और इकाइयों को लीज व डेवलपमेंट एग्रीमेंट पर चलाने का भी फैसला हुआ। साथ ही ऑनलाइन स्टाम्प शुल्क जमा करने के लिए स्टाम्प शुल्क एवं रजिस्ट्रेशन फीस ई-भुगतान नियमावली, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम में परियोजना विकास परामर्शी कंपनी की अतिरिक्त सेवाएं लेने का भी फैसला लिया गया। यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: अखिलेश सरकार लागू करेगी सातवां वेतन आयोग Also Read - सीएम योगी ने VC के जरिए हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से बात की

फ़िलहाल इस फैसले के बाद सरकारी कर्मचारियों में खुशी की लहर है। लेकिन गौरतलब हो की उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होना है। इस चुनाव में महज कुछ ही महीने रह गए हैं। शायद इस फैसले से सीएम अखिलेश यादव सरकारी कर्मचारियों को खुश कर अपने वोट बैंक को और भी मजबूत करने की कोशिश में जुटे हैं।