लखनऊ: लखनऊ से दिल्ली जाने वाली पहली निजी सेमी हाईस्पीड ट्रेन ‘तेजस एक्सप्रेस’ को शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने झंडी दिखाई. मुख्यमंत्री ने इस पहली ट्रेन में यात्रा करने वालों को बधाई दी और प्रदेश को यह सौगात देने के लिए प्रधानमंत्री एवं रेल मंत्री को धन्यवाद दिया.

योगी आदित्यनाथ ने कहा, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रेल मंत्री पीयूष गोयल को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने सबसे बड़े राज्य से दिल्ली के लिए पहली कॉरपोरेट ट्रेन चलाई. जब मोबाइल सेवा शुरू हुई थी, तब एक फोन काल के 16 रूपये लगते थे लेकिन आज हर हाथ में मोबाइल है. यह एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के कारण हुआ.

उन्होंने कहा कि भारतीय रेल देश को जोड़ने वाला एक सशक्त माध्यम है. यह सुरक्षित और सस्ती यात्रा है. साथ ही यह पर्यावरण की दृष्टि से भी बेहतर है. अब हमें जरूरत है कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में इसी तरह की प्रतिस्पर्धा हो ताकि लोगो को बेहतर चिकित्सकीय सुविधा मिल सकें.

तेजस एक्सप्रेस लखनऊ से दिल्ली की दूरी करीब सवा छह घंटे में तय करेगी. यह बीच में केवल कानपुर और गाजियाबाद रुकेगी. ट्रेन लखनऊ से सुबह छह बज कर दस मिनट पर रवाना होगी और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन दोपहर 12 बज कर 25 मिनट पर पहुंचेगी. ट्रेन वापसी में दिल्ली से तीन बजकर 35 मिनट पर रवाना होगी और दस बज कर पांच मिनट पर लखनऊ पहुंचेगी. ट्रेन वाणिज्यिक यात्रा शनिवार से शुरू करेगी. ट्रेन मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन चलेगी.

(इनपुट-भाषा)