Farmer commits suicide by hanging from tree in Banda: देश की राजधानी दिल्‍ली में जब किसान आंदोलन कर रहे हैं, उत्‍तर प्रदेश के बुंदेलखंड अंचल के बांदा जिले में एक किसान ने खेत में लगे पेड़ से लटककर सुसाइड कर ली है. Also Read - Food Processing Hub: यूपी बना फूड प्रोसेसिंग के लिए उद्योगपतियों का पसंदीदा क्षेत्र

बताया जा रहा है कि उस पर पर बैंक का करीब ढाई लाख रुपए कर्ज था, जिसकी वसूली के दबाव के चलते उसने आत्‍महत्‍या कर ली है. Also Read - Food Processing Investment: यूपी में फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्रियों के लिए निवेश बढ़ा, 101 इकाइयां खुली; 38 पर काम तेज

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के गिरवां थाना क्षेत्र के बरई मानपुर (शेरपुर) गांव में एक किसान ने खेत में लगे पेड़ से लटककर आत्महत्या कर ली. किसान की पत्नी गंगिया देवी के हवाले से एसएचओ ने बताया, “उसके पति पर ढाई लाख रुपए सरकारी बैंक का कर्ज था, जिसे वापस करने का दबाव था. संभवतः कर्ज वापसी के दबाव में उसने आत्महत्या की होगी. Also Read - Positive News: इस गांव ने पेश की मिसाल, नवविवाहितों को गृह प्रवेश से पहले करना होगा ये काम

किसान आवारा मवेशियों से अपनी फसल की रखवाली के लिए खेत में ही रात गुजारा करता था.

गिरवां थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) बलजीत सिंह ने शुक्रवार को बताया कि “बृहस्पतिवार को बरई मानपुर (शेरपुर) गांव में किसान चुनबद्दी (55) का शव उसके खेत में लगे बबूल के पेड़ से लटका हुआ पाया गया.”

थाना प्रभारी ने बताया, “किसान आवारा मवेशियों से फसल की रखवाली के लिए खेत में ही रात गुजारा करता था. पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है और घटना की सूचना राजस्व अधिकारियों को दे दी गई है.”

किसान की पत्नी गंगिया देवी के हवाले से एसएचओ ने बताया, “उसके पति पर ढाई लाख रुपए सरकारी बैंक का कर्ज था, जिसे वापस करने का दबाव था. संभवतः कर्ज वापसी के दबाव में उसने आत्महत्या की होगी. मामले की जांच की जा रही है.”