सहारनपुर: यूपी के सहारनपुर में घर में अकेली नाबालिग की पड़ोसियों ने इज्जत बचा ली. चीखें सुन पड़ोसियों ने दरवाजा तोड़ दिया और नाबालिग को बचा लिया. घर में दोस्त से मिलने के बहाने जबरन घर में घुसे दो युवक नाबालिग के साथ रेप का प्रयास कर रहे थे. पुलिस ने दोनों युवकों को अरेस्ट कर लिया है. पड़ोसियों की सजगता की सराहना की जा रही है. ऐसे दौर में जब शहरों में लोग अपने पड़ोसियों को पहचानते तक नहीं, ऐसे में पड़ोसियों के इस कदम की सराहना की जा रही है.

बहाने से खुलवाया दरवाजा
मामला सहारनपुर के गंगोह थाने इलाके का है. बताया जा रहा है कि नाबालिग के घर पहले किराएदार रहते थे. किराएदारों के परिवार में एक लड़का भी रहता था. उससे मिलने के लिए दो लड़के आते रहते थे. कुछ समय पहले किराएदार खाली कर चले गए. इसके बाद भी सनी और रवि नामक दो युवक उससे मिलने के बहाने आए. दरवाजा खुलवाकर दोनों जबरन घर में घुस गए.

चीखें सुन दरवाजा तोड़ घुसे पड़ोसी
पुलिस के मुताबिक नाबालिग घर में अकेली थी. परिजन किसी काम से बाहर थे. ये देख दोनों ने उसके साथ बदसुलूकी शुरू कर दी. उसके साथ रेप करने का प्रयास करने लगे. नाबालिग ने विरोध किया और उसने तेज चीखना शुरू कर दिया. चीखों की आवाज पड़ोसियों ने सुनी. पड़ोसी नाबालिग के घर की ओर भागे. पड़ोसियों ने अंदर घुसने के लिए दरवाजा तोड़ दिया. और घर के अंदर दाखिल हुए. पड़ोसियों के अनुसार जब वह पहुंचे तो लड़के नाबालिग का मुंह दबाए उसकी आवाज दबाना चाह रहे थे. हमने उनसे नाबालिग को बचा लिया. पड़ोसियों ने बताया कि दोनों को पकड़ लिया. पुलिस को सूचना दी गई. सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने दोनों को अरेस्ट कर लिया. पुलिस ने बताया कि दोनों को मामला दर्ज करा जेल भेज दिया गया है.