Gonda Priest Attack: उत्तर प्रदेश के गोंडा में पुजारी सम्राट दास ने ही खुद पर हमला करवाया था. पुजारी ने 10 अक्टूबर को खुद पर हमला करवाया था, जिससे वह अमर सिंह को झूठे मामले में फंसा सके. पुजारी की निगाहें अमर सिंह की 120 बीघा जमीन पर थी, जिसे वह हड़पना चाहता था. मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. हमले को लेकर विपक्ष ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति हमलावर रुख दिखाया था. Also Read - 600 साल में पहली बार इस शहर में रावण के साथ नहीं जलेंगे मेघनाद और कुम्भकरण, जानिए

गोंडा पुलिस ने शनिवार को इटियाथोक थाना क्षेत्र के अंतर्गत तिरेमनोरमा गांव के हरिद्वार सिंह बाग से मुन्ना सिंह, विपिन, नीरज सिंह, सोनू सिंह, महंत सीताराम, शिव शंकर सिंह और विनय कुमार को गिरफ्तार किया. गोंडा के एसपी शैलेष पांडेय ने कहा कि सम्राट दास को कंधे पर गोली लगी है और उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है. अस्पताल से छुट्टी मिलते ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा. पुलिस ने सोनू सिंह, महंत सीताराम, और मुन्ना सिंह के पास से देसी तमंचा जब्त किया है. Also Read - UP: हाथरस कांड की जांच कर रहे DIG चंद्रप्रकाश की पत्नी ने कर ली आत्महत्या, मची सनसनी

मुन्ना ने कथित तौर पर पुजारी पर गोली चलाई थी, जिसके बाद पुजारी ने दावा किया कि अमर सिंह ने मुकेश सिंह, भयहरण सिंह और दरोगा सिंह के साथ मिलकर उस पर हमला किया था, जब वह 10-11 अक्टूबर की रात मंदिर में सो रहा था. गोंडा एसपी ने कहा कि दोनों के बीच जमीन को लेकर विवाद था. अभियुक्त विनय कुमार यहां तक कि अमर सिंह के खिलाफ आगामी पंचायत चुनाव लड़ने की योजना बना रहा था. पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘इस प्रकार दोनों ने अमर सिंह को फंसाने की साजिश रची.’ Also Read - Bank Robbery in Greater Noida: बैंक लूट मे शामिल दो आरोपी गिरफ्तार, चेकिंग के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़े बदमाश

पुलिस ने पुजारी के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की थी और उसी दिन दरोगा और भयहरण को गिरफ्तार किया था. अब, वे रिहा कर दिए जाएंगे.

(इनपुट: IANS)