शामली: सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) के जवानों ने बुधवार तड़के धीमनपुरा के पास ट्रेन के पटरी से उतरने की खबर कवर कर रहे एक पत्रकार की पिटाई कर दी. एक निजी टीवी चैनल के पत्रकार अमित शर्मा के साथ वहां मौके पर मौजूद जीआरपी के जवानों ने खूब मारपीट की और उनका कैमरा छीन लिया.

पहले पत्रकार के साथ गाली-गलौज की गई. फिर सिविल ड्रेस पहने जीआरपी जवानों ने सरेआम उन्हें पीटना शुरू कर दिया. पत्रकार ने कहा कि पुलिस ने उसकी बात नहीं सुनी और उसे पीटते रहे. पीड़ित पत्रकार ने कहा, “मुझे लॉकअप में बंद कर दिया गया, मेरे कपड़े उतार दिया और उन्होंने मेरे मुंह पर पेशाब किया.” घटना की जानकारी मिलने पर कई पत्रकार थाने पहुंचे और सोशल मीडिया पर अमित शर्मा की पिटाई का वीडियो फुटेज डाल दिया. पत्रकारों ने पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से भी संपर्क किया.

घटना के तूल पकड़ने पर एसएचओ राकेश कुमार और जीआरपी कांस्टेबल सुनील कुमार को निलंबित कर दिया गया है और मामले की जांच का आदेश दिया गया है. पत्रकार को बाद में छोड़ दिया गया. शामली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडे ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों को इस घटना से अवगत कराया गया है, जो ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ थी. उन्होने कहा है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

(इनपुट एजेंसी)