कानपुरः कानपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 37 नए मामले शुक्रवार को सामने आये और इसके साथ ही जिले में इन मामलों की कुल संख्या बढ़कर 144 हो गयी . मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अशोक शुक्ला ने बताया कि कानपुर में शुक्रवार सुबह छह नए मामले सामने आए थे. इसके बाद, केवल दस घंटे में शाम तक 31 और नये मामले सामने आ गये, जिससे जिले में कुल मामले बढ़कर 144 हो गये. Also Read - HC ने दिल्‍ली सरकार से पूछा, क्या AAP MLA इमरान हुसैन को ‘रिफिलर’के जरिए ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई?

शुक्ला ने बताया कि दिल्ली में हुए तबलीगी जमात के कार्यक्रम में भाग लेकर लौटे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आये लगभग 24 मदरसा छात्रों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. सीएमओ ने बताया कि दो महिलाएं और एक पुलिस कांस्टेबल भी संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से एक महिला मीरपुर (रेलबाजार) से और दूसरी महिला कुली बाजार से है. Also Read - Aligarh Muslim University में कोरोना के नए वेरिएंट की आशंका! 26 प्रोफेसरों की मात्र 20 दिन में मौत

उन्होंने बताया कि अधिकांश मामले कुली बाजार इलाके में सामने आए हैं, जो संक्रमण से प्रभावित क्षेत्र (हॉटस्पॉट) है. यहां अब तक लगभग 60 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं . बाकी मामले रौशन नगर, कर्नलगंज और अनवरगंज के हैं. Also Read - Sourav Ganguly का ऐलान, Covid-19 से खेल प्रभावित होने के बावजूद घरेलू क्रिकेटर्स को दी जाएगी पूरी सैलरी

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कानपुर में अब तक सामने आये 144 मामलों में से नौ मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और तीन लोगों की मौत हो गई है. उन्होंने बताया कि बाकी 132 मरीजों का विभिन्न सरकारी अस्पतालों में उपचार किया जा रहा है . शुक्ला ने बताया कि संक्रमित पाए गए लोगों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है.

उत्तर प्रदेश में अब तक संक्रमण के 1621 मामले सामने आ चुके हैं. इसमें 247 लोग कोरोना को मात देकर अपने घर जा चुके हैं जबकि अभी तक 25 लोगों ने जान गवाई है. उत्तर प्रदेश में सबसे बुरे हालात आगरा में है. आगरा में अब तक 240 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं.