लखनऊ/देहरादून: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में गुरुवार को बीआर अम्बेडकर स्टेडियम, ओएनजीसी देहरादून में कर्टेन रेजर कार्यक्रम के तहत सामान्य योग अभ्यासक्रम(प्रोटोकाल) किया गया. इसमें योग गुरु स्वामी रामदेव ने सैकड़ों योग साधकों को योगाभ्यास कराया गया. इस दौरान उत्‍तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री श्रीपद येसो नाइक आदि ने भी स्वामी रामदेव के साथ योग का अभ्यास किया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि योग को जन-जन तक पहुंचाना है. योग विश्व को निरोग करने का संकल्प है. भारतीय संस्कृति में ‘सर्वे भवंतु सुखिनः सर्वे भवंतु निरामयाः’ की बात कही गई है. योग इसमें सहायक है. योग की धारा देवभूमि उत्तराखण्ड से प्रवाहित हुई है. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से सारी दुनिया ने योग की शक्ति को माना है और 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाने लगा है. प्रधानमंत्री मोदी, योग द्वारा सारी दुनिया को जोड़ने का काम कर रहे हैं. जब राजशक्ति, ऋषिशक्ति व अध्यात्म मिलकर काम करते हैं तो विश्व कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का मुख्‍य कार्यक्रम 21 जून को एफआरआई देहरादून में होगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हमारे लिए गौरव की बात है कि इस बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मुख्य कार्यक्रम के लिए देहरादून का चयन किया गया है. इससे देहरादून व उत्तराखण्ड अंतरराष्ट्रीय फलक पर नजर आएगा. हमें संकल्प लेना चाहिए कि रोज योग करेंगे और विश्व को निरोग करेंगे. योग को जनआंदोलन बनाने के लिए आम व्यक्ति की सहभागिता बहुत जरूरी है. मुख्यमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को एफआरआई देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में भाग करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि जो लोग वहां नहीं आ सकते हैं वे अपने गांव, शहर व घरों में योग करें.

CM yoga

योग का मुख्‍य कार्यक्रम उत्‍तराखंड में होना सौभाग्‍य की बात: रामदेव
केंद्रीय मंत्री श्रीपद येसो नाइक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से आज सारी दुनिया में योग का संदेश गया है. 21 जून को देवभूमि उत्तराखण्ड के देहरादून में योग का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है. इससे पूर्व दिल्ली, चंडीगढ़ व लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कार्यक्रमों का आयोजन सफलतापूर्वक किया गया. योग गुरु स्वामी रामदेव ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सारी दुनिया के लोग उत्साह के साथ योग करते हैं. ऐसे में मुख्य कार्यक्रम के आयोजन के लिए प्रधानमंत्री ने देहरादून, उत्तराखण्ड को प्राथमिकता दी है, ये हमारे लिए सौभाग्य की बात है. योग के लिए वातावरण निर्मित किए जाने की आवश्यकता है. इस दौरान कार्यक्रम में उत्तराखण्ड के आयुष मंत्री डा. हरक सिंह रावत, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद मुनि, विधायक हरबंस कपूर, गणेश जोशी, आचार्य बालकृष्ण, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी, भारत सरकार में सचिव आयुष राजेश कोटेचा, उत्तराखण्ड में सचिव आर.के. सुधांशु, डा. पंकज कुमार पाण्डेय सहित शासन, पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों हिस्‍सा लिया.

CM yoga 2

कार्यक्रम में शामिल होने को कराएं रजिस्ट्रेशन
बताया गया कि दिल्ली, चंडीगढ़, लखनऊ के बाद देहरादून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के राष्ट्रीय आयोजन के लिए चुना गया है. 21 जून को सुबह 6 बजे से 8 बजे तक एफआरआई में मुख्य कार्यक्रम का आयोजन होगा. इसकी तैयारियां की जा रही हैं. कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए पतंजलि योगपीठ, देवसंस्कृति विश्वविद्यालय, आर्ट ऑफ लिविंग, परमार्थ निकेतन, ब्रह्म कुमारी, आदि संगठनों और संस्थाओं का भी सहयोग लिया जा रहा है. कार्यक्रम में प्रतिभाग के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया गया है. 21 जून को आयोजित मुख्य कार्यक्रम में योगाभ्यास में एकरूपता हो सके, इसके लिए देहरादून, हरिद्वार में कई स्थानों पर निशुल्क प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है.