वाराणसी: अपनी ही पार्टी के खिलाफ अक्सर बयान देने वाले बीजेपी नेता व सांसद शत्रुघ्न सिंहा ने फिर से कुछ ऐसा किया, जो निश्चित ही उनकी पार्टी को रास नहीं आएगा. शत्रुघ्न सिंहा आज सोमवार को वाराणसी में आम आदमी पार्टी द्वारा आयोजित ‘जन अधिकार रैली’ में भाग लेने पहुंचे. उन्होंने रैली में न सिर्फ हिस्सा लिया बल्कि आप नेताओं की जमकर तारीफ की. खासकर आप नेता व राज्यसभा सांसद संजय सिंह की तारीफों के पुल बांधे. उन्होंने कहा कि संजय सिंह बेहद विद्वान् और लोकतंत्र चाहने वाले नेता हैं. ऐसे काबिल नेताओं की जरूरत है. Also Read - केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा- कमलनाथ ने दलितों का अपमान किया, पार्टी से निकाले कांग्रेस

आप नेताओं की तारीफों के बीच बोले- ‘खामोश’
आप नेताओं की तारीफ के बीच आम आदमी पार्टी में शामिल होने के सवाल पर उन्होंने चिर-परिचित अंदाज में पत्रकारों से ‘खामोश’ कहा और हंसते हुए चले गए. इससे पहले जन अधिकार रैली में शामिल होने के सवाल पर शत्रुघ्न सिंहा ने कहा कि वह बीजेपी नेता के तौर पर कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए. यह सर्वदल का कार्यक्रम था. यह लोकतंत्र में यकीन दिलाने वाला कार्यक्रम था. इसलिए उन्होंने इसमें हिस्सा लिया. उन्होंने कहा कि यहां मैं अपनी पार्टी विरोधी गतिविधि करने नहीं आया हूं. सर्वदलीय बैठक में इंसान के तौर पर आया हूं. ये डेमोक्रेसी के लिए कार्यक्रम था, इसलिए हिस्सा लेने पहुंचे. Also Read - भाजपा विधायक ने दिए बगावत के संकेत, बोले- येदियुरप्पा लंबे समय तक मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे

आपातकाल सबक सिखाने वाला था
उन्होंने कहा कि सत्ता परिवर्तन से ज्यादा महत्वपूर्ण है कि व्यवस्था परिवर्तन हो. स्थिति व्यवस्था परिवर्तन से ज्यादा बदलेगी. उन्होंने कहा कि आपातकाल लागू होने वाला दिन एक सबक सिखाने वाला दिन था. हमें लोकतंत्र का महत्व बताने वाला दिन था. सबक सिखाने वाला दिन था. इस दिन हर लोकतंत्र पर यकीन करने वाले को जरूर याद रखना चाहिए. आप नेता संजय सिंह की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि संजय सिंह लोकतंत्र में यकीन रखते हैं. उन्होंने कहा कि वह देशभक्त हैं. उनके अंदर लगन है. मैं उनका आभारी हूं कि उन्होंने मुझे इस कार्यक्रम में हिस्सा बनने के लिए बुलाया. Also Read - राहुल गांधी की नाराजगी को भी कमलनाथ ने नहीं दी 'तवज्जो', 'आइटम' वाले बयान पर माफी मांगने से इनकार