वाराणसी: भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिंहा ने एक बार फिर अपनी ही पार्टी और सरकार पर हमला बोला है. आम आदमी पार्टी द्वारा आयोजित जन अधिकार रैली में पहुंचे भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिंहा ने पहले तो कहा कि वह नेता और सांसद के तौर पर हिस्सा लेने नहीं आए हैं. इसके बाद रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने भाजपा पर हमला बोला. बीजेपी सांसद ने पीएम मोदी पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि नोटबंदी पार्टी का फैसला नहीं था. किसी को इस बारे में जानकारी नहीं थी. लोग नोटबंदी से संभल नहीं पाए, फिर जीएसटी लेकर आ गए. भोजपुरी में जीएसटी का मतलब ‘गइल सरकार तोहार’ (गई सरकार तुम्हारी) होता है. अपने पार्टी के कई नेताओं की आलोचना करते हुए अरविंद केजरीवाल को सच्चा नेता बताया.

नोटबंदी की आलोचना की
शत्रुघ्न सिन्हा ने रैली में कहा कि नोटबंदी ठीक फैसला नहीं था. बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, यशवंत सिन्हा, शौरी, मुरली मनोहर जोशी सहित किसी को भी नोटबंदी के बारे में जानकारी नहीं थी. फिर ये कैसे कोई कह सकता है कि ये पार्टी का फैसला था. उन्होंने कहा कि नोटबंदी से लोग संभल भी नहीं पाए थे कि जीएसटी लेकर आ गए. इसका भोजपुरी में मतलब गइल सरकार तोहार होता है.

‘आप’ की रैली में पहुंचे BJP नेता शत्रुघ्न सिंहा, संजय सिंह की तारीफ कर बोले- ‘खामोश’

गुजरात में BJP कैसे जीती पता नहीं
शत्रुघ्न सिन्हा ने गुजरात में बीजेपी की जीत पर सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि गुजरात में जो हमारी जीत हुई है वो सूरत के कारण हुई. उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि ऐसा कैसे हुआ. मैं ये नहीं कहता कि ईवीएम खराब है, लेकिन 16 में से 15 सीट कैसे आ गईं. इसके साथ ही शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि एक चाय वाला पीएम बन सकता है. कहीं से एक टीवी एक्टर आती है और एचआरडी मिनिस्टर बन जाती है, तो फिर मैं मंत्री क्यों नहीं बन सकता है. फिर उन्होंने कहा कि मुझे मंत्री बनने की जरूरत नहीं है. मैं इससे ऊपर निकल चुका हूं. मुझे जनता की सेवा करनी है. मैं अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहा हूं. आज स्थिति ये है कि अधिकतर मंत्रियों को लोग नहीं पहचानते हैं और न ही उनकी सुनी जाती है.

अरविंद केजरीवाल को बताया सच्चा नेता
अरविंद केजरीवाल को शत्रुघ्न सिन्हा ने सच्चा नेता बताया. उन्होंने कहा कि आज अगर पूरी राजनीति को देखें तो अरविंद केजरीवाल सबसे सच्चे नेता हैं. उनकी छवि साफ है. इसके साथ ही उन्होंने आप नेता व राज्यसभा सांसद संजय सिंह की भी तारीफ की. उन्होंने संजय को लोकतंत्र की कद्र करने वाला नेता बताया. पत्रकारों के आम आदमी पार्टी जॉइन करने के सवाल पर उन्होंने अपने चिरपरिचित अंदाज में ‘खामोश’ कहा और हँसते हुए चले गए.