लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के आगरा जिले में रेलवे अंडरपास में पानी जमा होने के कारण स्‍कूली बस उसमें फंस गई, इस पर लोगों ने मदद कर सभी बच्‍चों को सकुशल बाहर निकाल लिया. इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो सोशल साइट्स पर खूब वायरल हो रहा है. यूपी पुलिस ने राजधानी लखनऊ से 196 किमी दूर आगरा के रामनगरिया में हुई घटना का वीडियो भी ट्वीट किया. Also Read - 14 राज्यों में अब तक तबलीगी जमात के 647 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए: Health Ministry

  Also Read - कोरोना महासंकट के बीच हुए इन हमलों ने बढ़ाई देश की चिंता, तैनात करना पड़ रहे पुलिस जवान

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना की सूचना मिलते ही आसपास के युवाओं की टोली मदद के लिए आगे आई, युवाओं ने तेजी दिखाते हुए बस की छत पर खड़े होकर और कुछ ने पानी में उतरकर बच्‍चों को बाहर निकालना शुरू किया. वायरल वीडियो में सभी लोग बच्‍चों को खिड़कियों को तोड़कर बाहर निकालते हैं, जिसके चलते बस में सवार करीब 60 से अधिक बच्‍चों की जान बच सकी. यूपी पुलिस ने वीडियो को ट्वीट किया कि जब हमें जानकारी मिली कि बच्चे फंस गए हैं तो हमने तुरंत कुछ लोगों को उन्हें बचाने के लिए भेजा.

यूपी में बारिश से नदियां उफान पर, सीएम योगी करेंगे गोंडा, बलरामपुर, बस्ती जिले का हवाई सर्वेक्षण

ऐसे हुई घटना
जानकारी के मुताबिक आगरा के थाना जैतपुर क्षेत्र के आगरा-इटावा रेलवे लाइन पर रामनगरिया गांव पड़ता है. गांव के पास आगरा-इटावा रेल लाइन पर ग्रामीणों के निकलने के लिए अंडर पास बनाया गया है. लगातार हो रही बारिश के कारण अंडरपास में पानी भर गया. मंगलवार को क्षेत्र के दीप श्री सूर्यकांत विद्यापीठ पब्लिक स्कूल नौगवां की स्कूल बस दोपहर छुट्टी के बाद रोजाना की तरह बच्चों को घर छोड़ने जा रही थी. उस वक्त बस में करीब 63 बच्चे सवार थे. जैसे ही बस अंडरपास के पास पहुंची तो वहां मौजूद कुछ ग्रामीणों ने स्कूल बस चालक को मना किया और कहा कि अंडरपास में पानी कई फीट भरा हुआ है. वहां मत जाओ बस फंस सकती है, इसके बावजूद चालक ने लोगों की एक नहीं सुनी और बस को पानी के भरे अंडरपास में निकालने लगा. तभी अचानक अंडर पास के गहरे पानी में बस जाते ही बंद हो गई. इसके चलते बस में पानी भर गया और बच्चे डूबने लगे. बच्चों की चीख पुकार सुनकर तत्काल ग्रामीणों ने कंट्रोल रूम को सूचना दी और खुद मोर्चा सम्भालते हुए बच्चों को बचाने के लिए जुट गए.