लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश की मेरठ पुलिस की गैरजिम्मेदाराना हरकत और मेडिकल कॉलेज की छात्रा के साथ की गई अभद्रता को लेकर चारों ओर हल्ला मचा हुआ है. सोशल मीडिया पर तो हजारों की संख्या में कमेंट किए जा रहे हैं. विरोधियों ने सरकार और पुलिस अधिकारियों को निशाने पर रखा है. कई लोगों ने यूपी पुलिस को तालिबानी करार दे दिया. दरअसल उत्तर प्रदेश के मेरठ में मेडिकल कॉलेज की एक छात्रा के दूसरे समुदाय के युवक के कमरे में पाए जाने पर पुलिस द्वारा छात्रा से कथित रूप से अभद्रता की गई, जिसका खुलासा घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद चला. फिलहाल मामले में एक महिला सिपाही सहित तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.

 

पुलिस ने घटना के संबंध में किसी भी पक्ष की तरफ से तहरीर नहीं मिलने एवं छात्र-छात्राओं के बालिग होने के कारण दोनों के परिजनों को बुलाकर उन्हें सुपुर्द कर दिया था. इस घटना से संबंधित वीडियो वायरल हो गया था. इस वीडियो में उत्तर प्रदेश पुलिस की डायल 100 पुलिस और मेडिकल थाने में तैनात महिला कांस्टेबल छात्रा के साथ कथित रूप से अभद्र व्यवहार करती दिख रही है. पुलिस अधीक्षक (नगर) रणविजय सिंह के अनुसार इस वीडियो के आधार पर सब हेडकांस्टेबल सलेकचंद, सिपाही नीटू सिंह और महिला कांस्टेबल प्रियंका को निलंबित कर दिया गया है.

 

यह है वीडियो में
पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि वायरल वीडियो को यूपी 100 गाड़ी के चालक ने बनाया है. महिला कांस्टेबल को छात्रा के चेहरे से कपड़ा हटाने और उससे मारपीट करने के लिए कहा जा रहा था. साथ ही चालक छात्रा को हिन्‍दू युवती होने पर मुस्लिम युवक से मिलने के लिए डांटता दिख रहा है, साथ ही महिला कॉस्‍टेबल उसे मार भी रही है. इसी आधार पर पुलिस अधिकारियों ने पुलिसकर्मियों को दोषी करार दिया है. साथ ही इस वीडियो को जांच के लिए पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षित भी कर लिया है.

यूपी के औरैया में भोजीपुरी गाने पर डायल 100 के सिपाही लगा रहे ठुमके, वीडियो वायरल

यह है पूरा मामला
यूपी के हापुड़ जिले की रहने वाली युवती मेरठ में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है. उसके साथ पढ़ने वाला युवक दूसरे समुदाय का है, जो कि मेरठ के एक मोहल्‍ले में रहता है. बीते रविवार को छात्रा अपने साथ पढ़ने वाले युवक के घर पर गई थी. इसी बीच स्‍थानीय लोगों ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को बुला लिया था. आरोप था कि कार्यकर्ताओं ने छात्र और छात्रा पर आरोप लगाकर उनकी पिटाई की दी थी, वहीं, छात्रा का दावा था कि वह साथ पढ़ने वाले युवक से लैपटॉप लेने आई थी. मौके पर पहुंची यूपी 100 पुलिस छात्रा को अपनी गाड़ी से थाने लेकर पहुंची थी. तभी यह घटनाक्रम हुआ.