लखनऊ: यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने संत कबीर की मजार पर टोपी पहनने से इनकार कर दिया. सीएम योगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर चल रहीं तैयारियों का जायजा लेने बुधवार को वहां पहुंचे थे.Also Read - UP News: दुर्गा पूजा पर योगी सरकार की कड़ी नजर, कानून व्यवस्था बनाए रखने के दिशा-निर्देश किए जारी

Also Read - Lakhimpur Kheri Case: नहीं चली मंत्री के बेटे की हनक, 12 घंटे में साबित नहीं कर सका बेगुनाही, यूं भेजा गया जेल

यूपी के संत कबीर नगर जिले के मगहर में संत कबीर की समाधि स्‍थली है. आज यानी गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ‘संत कबीर अकादमी‘ की आधारशिला रखेंगे और मगहर में जनसभा को संबोधित करेंगे. इसके अलावा प्रधानमंत्री संत कबीर दास की 500वीं पुण्यतिथि पर उनकी परिनिर्वाण स्थली पर जाकर उनकी मजार पर चादर चढ़ाएंगे. इसी क्रम में बुधवार को यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ तैयारियों का जायजा संत कबीर की परिनिर्वाण स्‍थली पहुंचे. इस दौरान उन्‍होंने अधिकारियों को जरूरी निर्देश देने के बाद संत कबीर की मजार पर पहुंचे. वहां मौजूद खादिम ने सीएम को टोपी देनी चाहिए, लेकिन सीएम ने टोपी लेने इनकार कर दिया. बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने भी एक कार्यक्रम में टोपी पहनने से इनकार कर दिया था. Also Read - Lakhimpur Kheri Violence Update: हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा से पूछताछ जारी, सिद्धू ने तोड़ा अनशन

प्रधानमंत्री लखनऊ होते हुए पहुंचे मगहर, कर रहे जनसभा
प्रधानमंत्री के बदले हुए कार्यक्रम के मुताबिक वह आज लखनऊ से हेलीकॉप्टर के जरिये मगहर रवाना हुए. इससे पूर्व उनका कार्यक्रम गोरखपुर और उसके बाद मगहर जाने का था. भाजपा के जोनल उपाध्यक्ष सत्येन्द्र सिन्हा ने बताया कि प्रधानमंत्री ने 2014 में गोरखपुर की गोरक्षपीठ से एक संदेश दिया था, जिसके सकारात्मक परिणाम रहे थे, उसी तरह वह इस बार कबीर दास की निर्वाण स्थली से संदेश देंगे. बताया कि राज्य के सात पूर्वी जिलों की जनता से पार्टी कार्यकर्ता संपर्क किया है. जनसभा में विशाल जनसमूह आने की उम्मीद है.