नई दिल्ली: बीती रात पत्रकार विक्रम जोशी पर गाजियाबाद में बदमाशों द्वारा जानलेवा हमला किया था. इस बीच इलाज के दौरान आज विक्रम जोशी की यशोदा अस्पताल में मौत हो गई. बता दें कि बीते रात बदमाशों ने विक्रम जोशी को घेरकर गोली मारी थी. इसके बाद उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था. यहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया जिसके बाद आज उनकी मौत हो गई. बता दें कि सारा विवाद छेड़छाड़ से शुरू हुआ था.Also Read - एमपी के मंदसौर जिले में मुस्लिम पत्रकार ने हिंदू धर्म अपनाया, नया नाम चेतन सिंह राजपूत

पत्रकार जोशी की भांजी को परेशान कर रहे युवकों के खिलाफ उन्होंने पुलिस में शिकायत की थी. इस कारण शिकायत करने से नाराज आरोपियों ने बीती रात उन्हें घेरकर सिर में गोली मार दी. बता दें कि इस पूरी घटना का नजदीक के ही सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो गया है. इस बाबत पुलिस पर विक्रम के परिजनों ने सवाल खड़ा कर दिया है. परिजनों ने कहा है कि विक्रम की शिकायत को लेकर पुलिस द्वारा लापरवाही बरती गई. Also Read - गाजियाबाद में नकली नोट बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़, दिल्ली पुलिस ने मारा छापा

बता दें कि इस मामले में चौकी इंचार्ज को सस्पेंड किया जा चुका है. साथ ही एसएसपी कलानिधि नैथानी ने चौंकी इंचार्ज राघवेंद्र को सस्पेंड कर दिया है और पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी को सौंप दी है. बता दें कि अबतक 9 लोगों को इस मामले में गिरफ्तारी हो चुकी है. पुलिस अभी नामजद अपराधी आकाश बिहारी की तलाश में जुटी हुई है. Also Read - हिजाब पहनकर कॉलेज आने पर हुआ विवाद, छात्राओं ने की नारेबाजी | Watch Video