एटा/लखनऊ: बहुचर्चित विवेक तिवारी हत्याकांड में हत्यारोपी सिपाही के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले यूपी पुलिस की बागी सिपाही सर्वेश ने अपने निलंबन के बाद इस्तीफ़ा नौकरी से इस्तीफ़ा दे दिया. हालांकि उसका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया.Also Read - UP: RSS नेता के बेटे की सुसाइड केस में सब-इंस्‍पेक्‍टर समेत 5 पुलिसकर्मी सस्‍पेंड

Also Read - अगस्त से बदल जाएंगे Facebook और Twitter, जानें इस बार क्या होगा बड़ा बदलाव

परिवार की सहमति के बाद दिया इस्तीफा Also Read - यूपी में हेड कांस्टेबिल की हत्या, दो भाईयों ने लाठी से पीट-पीट कर मार डाला

बता दें कि  उत्तर प्रदेश की राजधानी में एप्पल कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की एक पुलिस कांस्टेबल की गोली से हत्या के बाद सवालों के घेरे में आई यूपी पुलिस की कार्यशैली और हंगामे के बीच हत्यारोपी के समर्थन में पुलिस के कई लोग आ गए उन्हीं में से एक सिपाही को  सोशल मीडिया पर एक वीडियो डालने पर निलंबित किया गया. बताया जा रहा है इसके बाद यूपी पुलिस के बागी सिपाही सर्वेश चौधरी ने एसएसपी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. हालांकि एसएसपी ने उसे स्वीकार नहीं किया है.

पुलिस की नौकरी आत्महत्या से कम नहीं

निलंबित सिपाही सर्वेश शुक्रवार दोपहर को एसएसपी आशीष तिवारी से मिलने उनके बंगले पर पहुंचा. उसने पुलिस व्यवस्था पर प्रश्नचिह्न् लगाते हुए अपना इस्तीफा सौंप दिया. सर्वेश ने अपने त्यागपत्र में साफ लिखा है कि वह अपने होश में और परिवार की सहमति के बाद ही इस्तीफा दे रहा है. निलंबित सिपाही ने कहा कि वह किसी के दबाव में नौकरी नहीं कर सकता. पुलिस में नौकरी करना आत्महत्या से कम नहीं है, इसलिए उसने यह फैसला लिया है.

विवेक तिवारी हत्याकांड: हाईकोर्ट ने खारिज की सीबीआई जांच को लेकर दायर याचिका

हालांकि एसएसपी आशीष तिवारी ने सर्वेश चौधरी का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है. बताया जा रहा है कि इस्तीफा देने आए सर्वेश को साथी पुलिसकर्मियों ने समझा-बुझाकर वापस कर दिया. मथुरा निवासी सर्वेश चौधरी ने लखनऊ में विवेक तिवारी मामले के आरोपी सिपाहियों के खिलाफ हुई कार्रवाई के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो डाला था. वीडियो में उसने जन-प्रतिनिधि और मीडिया पर भड़ास निकाली थी. वीडियो वायरल होने के बाद सिपाही को निलंबित कर दिया गया था. (इनपुट एजेंसी)