UP Elections: राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने शनिवार को कहा कि समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर उनकी बात चल रही है. अपने पिता चौधरी अजित सिंह जी के निधन के बाद यहां पहली बार आये जयंत चौधरी ने कहा, ‘‘उतर प्रदेश में जो चुनौतियां है उन्हें दूर करने के लिये हमें अपनी ताकत बढानी है .’’Also Read - BJP के यूपी चीफ ने अखिलेश यादव की तुलना मुगल शासकों से की, बोले- इन सबने देश लूटा

वह सहारनपुर जिले के गंगोह मे जन आशीर्वाद रैली से पूर्व पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे . जयंत ने कहा कि उनकी सपा नेताओं के साथ गठबंधन को लेकर बातचीत चल रही है. लखीमपुरखीरी की घटना पर जयंत चौधरी ने कहा, ‘‘सरकार अभी तक पीड़ित परिवारों को न्याय नही दिला पाई है . …गृहराज्य मंत्री का इस्तीफा हुआ नहीं है बल्कि (केंद्रीय गृहमंत्री) अमित शाह जी ने उन्हें दिल्ली बुलाकर उनकी पीठ थपथपाया और (उन्हें) यह कहकर वापस भेज दिया कि काम चालू रखो . यह हमारे अन्नदाता का बहुत बडा अपमान है, किसान इस बात को भूलेगा नहीं . ’’ Also Read - UP Assembly Election 2022: प्रियंका गांधी के आने से चुनाव में सपा को कितना होगा नुकसान, अखिलेश यादव ने बताया

उन्होंने ने कहा कि भाजपा किस आधार पर यह बात कह रही है कि वह पूर्ण बहुमत से सता में आयेगी. उन्होंने कहा कि अभी तक न तो किसानों की आय दुगुनी हुई, न ही उसने जो वायदे किये थे वे पूरे हुए,हर वर्ग की कठिनाइया बढ ही गई हैं. रालोद नेता ने अपनी जनसभा में नौजवानों, किसानों, मजदूरों सभी से आहवान किया कि वे जातिवाद ओर धर्म की राजनीति से उपर उठकर मुल्क की तरक्की के लिये भाजपा सरकार को उखाड फेकें . Also Read - बुंदेलखंड में अखिलेश यादव ने कहा- 'योगी' वही जो दूसरे का दर्द समझे, लॉकडाउन में मजदूरों के साथ बुरा बर्ताव हुआ

उतरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ पर कटाक्ष करते हुए जयंत चौधरी ने कहा, ‘‘ योगी जी को राजपाट छोडकर पूजापाठ करना चाहिये . हमने उनके चेहरे पर कभी हंसी नही देखी है लेकिन जब वह बछडो के बीच जाते है तो वे मुस्कराते हैं.’’ उन्होंने कहा कि रालोद की सरकार बनी तो पश्चिमी उतर प्रदेश में उच्च न्यायालय की पीठ बनायी जाएगी तथा किसानों की सम्मान राशि को छह हजार से बढाकर 12 हजार किया जाएगा.

(इनपुट भाषा)