Delhi/Noida/Gurugram Border Chaos: दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) में एक बार फिर लॉकडाउन (Lockdwon) लागू कर दिया गया है. इस कारण अगले वीकेंड तक नोएडा को बंद रखा गया है. साथ ही हरियाणा सरकार की तरफ से गुड़गाव को लेकर लॉकडाउन नहीं लगाया गया है लेकिन स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि सरकार को गुड़गाव में लॉकडाउन लगा देना चाहिए. इसी के साथ अब दिल्ली-नोएडा-गुड़गाव (Delhi-Noida-Gurugram Border) सीमा पर फिर से तनाव में वृद्धि देखने को मिल रही है. क्योंकि दिल्ली-नोएडा बॉर्डर (Delhi-Noida Border) को सील कर दिया गया है और गुड़गांव सीमा किसी भी वक्त सील किया जा सकता है. बता दें कि दिल्ली से सटे हरियाणा के तीन जिलों गुड़गांव, सोनीपत और झझर में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले देखने को मिल रहे हैं. इस कारण स्वास्थ्य विभाग ने हरियाणा सरकार से गुड़गांव में लॉकडाउन लगाने की मांग की है. Also Read - वकील की पत्‍नी जा रही थी दुकान, तीन युवकों ने उड़ेल दिया तेजाब

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब दिल्ली-नोएडा-गुड़गाव की सीमा को सील किया गया हो. पिछले 5 महीने में कई बार सीमाओं को सील किया जा चुका है. आवाजाही की अनुमति और गौतमबुद्ध नगर में सिर्फ उन लोगों को प्रवेश दिया जा रहा है, जिनके पास स्पेशल पास है. बता दें कि दिल्ली-गाजियाबद और दिल्ली-गुरुग्राम सीमाओं पर से प्रतिबंध को पिछले दिनों हटा लिया गया था. लेकिन लगातार नियमों में हो रहे बदलावों के कारण कुछ भी कह पाना असंभव है. साथ ही दैनिक यात्रियों के आवाजही का पर इसका काफी असर पड़ने वाला है. Also Read - Delhi NCR: राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम के मद्देनजर बढ़ाई गई सुरक्षा, प्रशासन अलर्ट

बार-बार बदलते नियमों के कारण सीमाओं को सील कर देने का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है. कोर्ट ने इस पर एक सामान तरीके का समाधान खोजने को लेकर केंद्र सरकार को आदेश दिया है. इस बाबत मानव संसाधन मंत्रालय ने अपने 2.0 दिशानिर्देशों में कहा कि देश में कहीं भी अंतरराज्यीय सीमाओं में आने जाने को लेकर प्रतिबंध नहीं है. लेकिन देश में किसी भी वक्त लॉकडाउन लगाया जा रहा है इस कारण सीमाओं की स्थिति पहले जैसी हो जाएगी और इन्हें बंद कर दिया जाएगा. Also Read - ममता बनर्जी को 5 अगस्त को लॉकडाउन वापस न लेने की कीमत चुकानी पड़ेगी: बीजेपी

बता दें कि नोएडा, गाजियाबाद व उत्तर प्रदेश के कई जगहों पर इस सप्ताह के अंत तक लॉकडाउन लगाया गया है. किसी भी सार्वजनिक परिवहन के यातायात पर रोक लगा दी गई है. सिर्फ जरूरी कामों के लिए यातायात का लोग इस्तेमाल कर रहे हैं. बता दें कि दिल्ली-गाजियाबाद (Delhi-Ghaziabad Border) और दिल्ली-नोएडा (Delhi-Noida Border) दोनों ही सीमाओं को सील किया जा चुका है. साथ ही नोएडा प्रशासन द्वारा किसी को भी सप्ताह के अंत तक के लिए पास जारी नहीं किया जा रहा है.